Friday, November 24News That Matters

गाड़ी में नीली बत्ती लगा कर आये थे,पुलिस से की बदतमीजी,मुख दर्शक बनी HP पुलिस

प्रजासत्ता न्यूज़|बिलासपुर
देश में वीआईपी कल्चर पर भले ही पूरी तरह प्रतिबंध लग चूका है लेकिन कुछ अधिकारी अभी भी बत्ती की चाह नहीं छोड़ रहे ऐसा ही मामला बिलासपुर जिला में देखने को सामने आया|

मंगलवार सुबह साढ़े 10 बजे बिलासपुर शहर में हरियाणा नंबर की एक नीली बत्ती लगी टाटा सूमो गाड़ी को बिलासपुर ट्रैफिक पुलिस ने रोका तो गाड़ी में सवार उक्त लोग ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के साथ बदतमीजी करने लगे। वे अपने आप को हरियाणा पुलिस के अधिकारी बता रहे थे। हालांकि ट्रैफिक पुलिस ने उनकी बातों का जवाब 2 शब्दों में जरूर दिया लेकिन वे बिलासपुर की एस.पी. और हिमाचल पुलिस को सरेआम बेकार पुलिस बोलते रहे लेकिन फिर भी ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने उन्हें कुछ नहीं बोला।

ट्रैफिक पुलिस के साथ बहसबाजी करते देख स्थानीय ऑटो यूनियन व टैक्सी यूनियन के लोग भी मौके पर पहुंचे। हरियाणा पुलिस के इन कथित अधिकारियों ने ऑटो यूनियन व टैक्सी यूनियन के पदाधिकारियों के साथ भी बहसबाजी की तथा कहने लगे कि उन्हें हरियाणा में नीली बत्ती लगाने का अधिकार है। काफी देर बहस करने के बाद वे लोग मौके से चले गए तथा बिलासपुर की ट्रैफिक पुलिस मुंह ताकती रह गई।

बताया जा रहा है कि टाटा सूमो में सवार इन व्यक्तियों के पास बंदूक भी थी और टाटा सूमो पर कोई नंबर भी नहीं था तथा गाड़ी के सारे शीशे काले थे,

वहीँ इस बारे में एसपी बिलासपुर अंजुम आरा ने बताया कि यदि नीली बत्ती लगी गाड़ी का चालान ट्रैफिक पुलिस ने नहीं किया तो जवाबतलबी की जाएगी। उन्होंने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *