नोटबंदी को लेकर भारत बंद हिमाचल में बेअसर,

0
19

हिमाचल प्रदेश में नोटबंदी को लेकर विपक्षी दलों के बंद के आह्वान का असर नहीं रहा| आज यहां केवल कांग्रेस ने नोटबंदी को लेकर सभी जिलों में अपना विरोध प्रदर्शन किया | रविवार को मुख्यमंत्री ने यहां स्पष्ट कर दिया था कि भारत बंद सरकार का नहीं बल्कि संगठन का फैसला है.

शिमला में आज दोपहर मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ता नोटबंदी को लेकर राज्यपाल आचार्य देवव्रत को एक ज्ञापन सौंपा| पूरे प्रदेश में आज कहीं भी बाजार बंद नहीं है.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने इस अवसर पर बताया कि कांग्रेस ने आज देश की जनता की भावनाओं से राज्यपाल को अवगत करवाया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से पीएम मोदी ने एकदम से 500 -1000 रुपये के पुराने नोट बंद कर दिए उससे आम जनता बहुत परेशान है। नोटबंदी से पहले सरकार को पुख्ता तैयारियां करनी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया।
.

राजधानी शिमला में आज बाजार पूरी तरह से खुले है. धर्मशाला में भी बाजार खुले हुए है तथा कहीं भी आम आवाजाही पर कोई असर नहीं है. ऊना में भी सुबह से बाजार खुला हुआ है. प्रदेश के औद्योगिक क्षेत्र बद्दी व नालागढ़ में भी कुछ दुकानें बंद है. लेकिन यहां भी कोई बड़ा असर नहीं देखा जा रहा है. यहां अधिकांश दुकानें व शोरूम खुले हुए है.

कुल्लू व हमीरपुर जिलों में भी बाजार खुले हुए हैं. मंडी में भी सुबह से दुकानें खुली हुई है. सोलन, बिलासपुर व चंबा में भी बंद का कोई असर नहीं है.

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें