बैंक पहुंचीं मोदी की 97 साल की मां,बदलवाए 4500 रु. के नोट

0
104

नरेंद्र मोदी की मां 97 वर्षीय हीराबा मंगलवार को करंसी बदलवाने के लिए खुद चलकर गांधीनगर के एक बैंक पहुंची। उनके पास 500-500 के 9 नोट (4500 रु.) थे। बैंक में उन्होंने बाकायदा फॉर्म भरा। बता दें कि मोदी ने 8 नवंबर को 500-1000 के नोट बंद किए जाने का एलान किया था।modisma-410x260

हीराबा ने बदलवाए साढ़े चार हजार रु….
हीराबा गांधीनगर की ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की में करंसी बदलवाने के लिए पहुंची।
उनके साथ छोटे बेटे और नरेंद्र मोदी के भाई पंकज भी थे। हालांकि बैंक में हीराबा का अकाउंट नहीं है, लेकिन बैंक में पंकज का अकाउंट है।

हीराबा के इस कदम को इन्सपिरेशन देने वाला माना जा रहा है।
उन्होंने सीनियर सिटिजन वाली लाइन में पैसे जमा कराए।
मोदी ने 8 नवंबर को किया नोटबंदी का एलान

मोदी ने 8 नवंबर को 500-1000 रु. के पुराने नोट बंद करने का एलान किया था।
सरकार ने जरूरी सेवाओं (सरकारी हॉस्पिटल, पेट्रोल पंप, मेडिकल स्टोर्स) के लिए पुराने नोट लेने की सीमा 24 नवंबर तक बढ़ा दी थी।
एटीएम से एक बार में 2500 निकाले जा सकेंगे।

बैंक काउंटर से एक हफ्ते में 24 हजार निकाले जा सकेंगे।
मंगलवार को इकोनॉमिक अफेयर्स सेक्रेटरी शक्तिकांत दास ने कहा कि बैंकों में बड़ी लाइन को लेकर चिंता में है। बार-बार नोट बदलवाने को लेकर लाइन में लगने वाले लोगों पर लगाम लगाने के लिए उंगली पर स्याही लगाई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं है

कोई जवाब दें