सरकार की लापरवाही से बेघर हुए तीन गरीब किसान परिवार :- आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी

सरकार की लापरवाही से बेघर हुए तीन गरीब किसान परिवार :- आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी

बिलासपुर ।
आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी के संस्थापक एंव राष्टीय उपाध्यक्ष मनोहर शर्मा ने प्रैस को जारी व्यान में वर्तमान भा ज पा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सही भूमी कानून व्यवस्था न होने की बजह से गाँव कोटलु ब्रह्मणा तहसील घुमारवीं जिला बिलासपुर के बंशीराम, लेखराम व जगरनाथ पुत्र स्व.शिव राम के घरोंं पर चला सरकारी बलड़ोजर आैर तीनों किसान गरीब परिवार बेघर हो गए तीनों परिवारों के सदस्य महनत मजदूरी करके अपने सपनों के घरों को संजोया था जबकि भा ज पा सरकार ने भारतीय उधयोगपतियों का 11 लाख हजार करोड़ रूपये कर्ज माफ किया आैर 2.5 लाख हजार करोड़ रूपये कर्ज दिया तो किसान प्रधान देश में किसानों के साथ अन्याय क्यों हो रहा है ।

शर्मा ने बताया कि दो परिवारों की अापसी रंजीस की बजह से न्यायपालिका में पहुंचे आैर शिव राम के पुत्रों के मकान सरकारी भूमी में पाए गए आैर हाई कोर्ट के फैसले के बाद तीनों परिवारों के मकानों को गिराने के आदेश हुए परंतु प्रदेश में आजतक सही भूमी विवादों को निपटाने के लिए सही कानून व्यवस्था नहीं बनाई गई जिसकी बजह से लगातार प्रदेश में भूमी विवादों को बढ़ावा मिला है दुख की बात तो यह है कि पटवारी कानूनगो को सही नक्से का ज्ञान न होने की बजह से कभी निशानदेही 20 फीट आगे तो कभी पीछे होती है ।

सत्ता में रही सरकारों ने भूमी विवादों को निपटाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए और ना ही कोई सही कानून व्यवस्था बनाई गई मनोहर शर्मा ने बताया कि अब तीनों गरीब किसान परिवारों को रहने व खाने के लाले पड़ गए हैं वहीं तीनों परिवारों के पास कुल 6 बिघा जमीन है । आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी के संस्थापक मनोहर शर्मा ने कहा कि पार्टी को जनसमर्थन मिलेते ही एक वर्ष के भीतर हिमाचल प्रदेश में जमीनी विवादों को निपटाने के लिए सही कानून व्यवस्था बनाकर जमीन विवादों को समाप्त करेगी आैर इन सब बातों के लिए पार्टी निष्ठावान भाव से अपने चुनावी घोषणापत्र को ऐफेडैफ्ट पर घोषित करेगी ताकि चुनाव के बाद भी जनता के हाथ में पावर रहे । मनोहर शर्मा ने मिडिया के माध्यम से प्रदेश की जनता से अनुरोध करते हुए कहा कि उक्त गरीब किसान परिवारों की मिलकर सहायता करें ।

सरकार की लापरवाही से बेघर हुए तीन गरीब किसान परिवार :- आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी
सरकार की लापरवाही से बेघर हुए तीन गरीब किसान परिवार :- आजाद हिंद क्रांतिकारी पार्टी