स्वारघाट में खोला जाएगा विद्युत बोर्ड का उप-मण्डलः जय राम ठाकुर

cm jairam Swarghat in Sri Naina Devi ji Vidhan Sabha area of Bilaspur

प्रजासत्ता|
-स्वारघाट क्षेत्र में 37 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण किए
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज बिलासपुर जिला के श्री नैनादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत स्वारघाट में लगभग 37 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की आधारशिलाएं रखीं और लोकार्पण किए।

उन्होंने गरामोड़ा मंे 65 लाख रुपये की लागत से निर्मित स्वर्णिम हिमाचल प्रवेश द्वार और 20 लाख रुपये की लागत से तैयार स्वर्णिम हिमाचल भित्ति चित्रकला, स्वारघाट में 1.35 करोड़ रुपये से निर्मित बस अड्डे और विद्युत उप-केन्द्र कोट के अन्तर्गत 2.90 करोड़ रुपये की लागत से 33/11 के.वी., 1ग2.5 एमवीए को 1.63 एमवीए उप-केन्द्र स्वारघाट में संवर्धित करने, इसके आधुनिकीकरण और जीर्णोद्धार का शुभारम्भ किया।

जय राम ठाकुर ने पलसेड़-कलाकुण्द सड़क पर 1.09 करोड़ रुपये की लागत से लेहरी खड्ड पर निर्मित होने वाले पुल, नाबार्ड के अन्तर्गत 5.95 करोड़ रुपये से बनने वाले मैथी-शैकली सड़क मार्ग, नाबार्ड के अन्तर्गत 5.25 करोड़ रुपये से बनने वाली लग-घाट जामली सड़क, नाबार्ड के अन्तर्गत नकराना पंचायत में 4.92 करोड़ रुपये लागत की गलूवा-छलैला सड़क, नकराना पंचायत के समीपवर्ती गांवों के लिए 3.01 करोड़ रुपये की लागत वाली ऊठाउ पेयजल आपूर्ति योजना, नाबार्ड के अन्तर्गत 3.74 करोड़ रुपये की लागत से सुरहद सम्पर्क मार्ग, कोट में 48 लाख रुपये की लागत से बनने वाले विद्युत उप-मण्डल कार्यालय भवन और जल शक्ति उप-मण्डल स्वारघाट एवं बस्सी की शेष बची बस्तियों में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत 6.66 करोड़ रुपये की लागत से होने वाले रैट्रोफिटिंग और स्त्रोत स्तर संवर्धन कार्य की आधारशिलाएं रखीं।

इसके उपरान्त, भाजपा मण्डल श्री नैनादेवी जी द्वारा आयोजित सम्मान समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 33 केवी विद्युत उप-मण्डल स्वारघाट के संवर्धन से स्वारघाट, जगातखाना, तनबोल, टाली, जुखारी, बैहल, तरवाड़, स्वाहन, री, बह और कुण्डालू पंचायतों के लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि पंचायतें लोकतंत्र की सबसे महत्वपूर्ण इकाइयां हैं जो अपने क्षेत्र के विकास मंे अहम योगदान निभाती हैं। हाल ही में सम्पन्न पंचायती राज चुनावों में विजयी रहे लगभग 70 प्रतिशत प्रधान और उप-प्रधान भाजपा समर्थित उम्मीदवार थे जो प्रदेश सरकार में लोगों के विश्वास को दर्शाता है। बीडीसी चुनावों में 68 भाजपा समर्थित और जबकि केवल 10 कांग्रेस समर्थित उम्मीदवार चुनाव जीते। उन्होंने पंचायती राज संस्थानों के निर्वाचित प्रतिनिधियों से निष्ठापूर्वक और जन अपेक्षाओं के अनुरूप कार्य करने का आह्वान किया।

जय राम ठाकुर ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के दृष्टिगत यह आवश्यक है कि प्रत्येक व्यक्ति फेस मास्क का उपयोग करे और उचित परस्पर दूरी बनाए रखे। इस महामारी ने समूचे विश्व की आर्थिकी को प्रभावित किया है जिससे भारत भी अछूता नहीं है। हालांकि महामारी से घबराने की आवश्यकता नहीं है लेकिन हमें सावधान रहकर स्थिति पर नजर बनाए रखनी है। उन्होंने कहा कि हमारा देश भाग्यशाली है कि परीक्षा की इस घड़ी में हमारा नेतृत्व एक गतिशील नेता कर रहे हैं। देश में वेंटिलेटर पर्याप्त संख्या में उपलब्ध नहीं थे लेकिन आज देश प्रतिदिन लगभग छः लाख पीपीई किट्स तैयार कर विभिन्न देशों को भी निर्यात कर रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र ने प्रदेश को 500 वेंटिलेटर भी प्रदान किए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्व का सबसे बड़ा प्रतिरक्षण कार्यक्रम भारत में चलाया गया जो केवल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त नेतृत्व से ही सम्भव हो पाया है। प्रदेश सरकार ने लाॅकडाउन के कारण बाहरी राज्यों में फंसे लगभग 2.50 लाख युवाओं की प्रदेश वापसी सुनिश्चित की लेकिन कांगे्रस नेता प्रदेश सरकार पर कोरोना फैलाने का आरोप लगाती रही जो उनकी संकुचित मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने लाॅकडाउन के दौरान जरूरतमंदों की सहायता करने के लिए भाजपा नेताओं का आभार व्यक्त किया। उन्होंने पिछले तीन वर्षों के दौरान प्रदेश सरकार को अपना भरपूर सहयोग देने के लिए प्रदेश के लोगों का भी धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि कांगे्रस सुर्खियों में बने रहने के लिए अनावाश्यक मुददे उछाल रही है जबकि प्रदेश में कांग्रेस बुरी तरह बिखरी हुई है।

जय राम ठाकुर ने वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई कल्याणकारी योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि जनमंच, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, सहारा योजना, हिम केयर, गृहिणी सुविधा आदि योजनाओं से प्रदेश के लाखों लोग लाभान्वित हो रहे हैं। हिम केयर योजना के अन्तर्गत लगभग 1.30 लाख लोगों को निःशुल्क उपचार प्रदान किया गया है जबकि सहारा योजना के अन्तर्गत गम्भीर बीमारी से ग्रसित मरीजों के परिवारों को तीन हजार रुपये प्रतिमाह की सहायता प्रदान की जा रही है। गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत 2.92 लाख परिवारों को निशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने स्वारघाट में राज्य विद्युत बोर्ड का उप-मण्डल खोलने, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्वारघाट को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, प्राथमिक विद्यालय री को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने, स्वारघाट में भूमि उपलब्ध होने के उपरान्त मिनी सचिवालय के निर्माण, स्वारघाट और श्री नैनादेवी के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में और ट्रैड्स शुरू करने, श्री नैनादेवी से शिमला और बैहल से नालागढ़ के लिए बस सेवा शुरू करने तथा क्षेत्र की सभी छः नवनिर्वाचित पंचायतों में पंचायत घर के निर्माण की घोषणा की। उन्होंने कहा कि वाहनों की पासिंग के लिए स्वारघाट में माह में एक दिन क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी बैठेगा और स्वारघाट में उप-न्यायाधीश कार्यालय खोलने के मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पंचायती राज संस्थानों, शहरी स्थानीय निकायों के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों, स्वैछिक संगठनों और स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को सम्मानित किया।

केन्द्रीय वित्त एवं कारपोरेट मामले के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने एक दिवसीय दौरे के दौरान इस क्षेत्र का विकास सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की हैं। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में सभी सिंचाई और पेयजल परियोजनाओं का समयबद्ध कार्यान्वयन सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि अब तक कोरोना महामारी खत्म नहीं हुई है इसलिए हम सभी को केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा जारी की गई मानक संचालन प्रक्रिया का कड़ाई से पालन करना होगा। कोविड महामारी के दौरान मोदी सरकार ने लगभग 80 करोड़ गरीबों को निःशुल्क राशन प्रदान किया और गरीब महिलाओं को 31 हजार करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की।

उन्होंने केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश के लोगों के कल्याण के लिए शुरू की गई योजनाओं की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने हिमाचल प्रदेश को 50 वर्षों के लिए 450 करोड़ रुपये का ब्याजमुक्त ऋण प्रदान किया है। उन्होंने प्रदेश में कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर द्वारा उठाए गए कदमों और प्रयासों की सराहना की।

प्रदेश भाजपा के मुख्य प्रवक्ता और श्री नैनादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक रणधीर शर्मा ने क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश और केन्द्र की डबल इंजन सरकारें प्रदेश का संतुलित और चहुमुखी विकास सुनिश्चित कर रही हैं। कोविड महामारी ने प्रदेश के विकास की गति को प्रभावित जरूर किया है लेकिन केन्द्र में प्रधानमंत्री और प्रदेश में मुख्यमंत्री ने विकास की गति को निर्बाध रूप से सुनिश्चित किया है। इस क्षेत्र के लोगों ने प्रदेश सरकार को अपना भरपूर सहयोग दिया है जिसके परिणामस्वरूप क्षेत्र की सभी पंचायती राज संस्थाओं में लगभग सभी पदों पर भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने जीत हासिल की हैं। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों को भी मुख्यमंत्री के समक्ष रखा।

भाजपा मण्डलाध्यक्ष ओंकार सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री और अन्य उपस्थित गणमान्यों का स्वागत किया। विधायक सुभाष ठाकुर और जेआर कटवाल, जिला भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र सिंह सांख्यान, जिला परिषद् अध्यक्ष मुस्कान, उपाध्यक्ष प्रेम ठाकुर, उपायुक्त बिलासुपर रोहित जम्बाल और अन्य वरिष्ठ नेता एवं अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।