हिमाचल : बिलासपुर रिश्वत मांगने पर हैड कांस्टेबल सस्पेंड, थाना प्रभारी को कारण बताओ नोटिस

एसपी दिवाकर शर्मा

सुभाष गौतम। बिलासपुर,
पुलिस थाना कोट में तैनात एक हैड कांस्टेबल को कथित रिश्वत की मांग करने पर सस्पेंड कर दिया गया है। रिश्वत की मांग पर संबंधित व्यक्ति द्वारा डीएसपी नैना देवी को दी गई। मामला एसपी के संज्ञान में लाया गया। इसके बाद एसपी बिलासपुर दिवाकर शर्मा ने हैड कांस्टेबल को सस्पेंड कर लाइन हाजिर कर दिया है। साथ ही विभागीय छानबीन के निर्देश एएसपी अमित शर्मा को दिए गए हैं।

मामले बारे विजिलेंस मंडी को भी सूचित किया गया है, ताकि विजिलेंस भी अपने तरीके से इस सारे प्रकरण की जांच कर ले। थाना कोट का अधिकांश हिस्सा पंजाब राज्य से सटा है तथा इसके तहत आने वाला मजारी क्षेत्र कच्ची शराब व अन्य मादक द्रव्यों की तस्करी के लिए जाना जाता है। संबंधित हैड कांस्टेबल शिकायतकर्ता से इसकी एवज में पैसे की मांग कर रहा था। गत वर्ष एसपी ने थाना कोट के प्रभारी को पिछले 18 महीनों में एनडीपीएस.एक्ट के तहत एक भी केस न दर्ज करने पर सस्पेंड किया था। 

इसे भी पढ़ें:  घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र में 190 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखी एवं किए लोकार्पण

जानकारी के अनुसार एसपी ने अन्वेषण अधिकारी को यह निर्देश भी दिए हैं कि सुनिश्चित करें कि इस मामले में कोई अन्य पुलिस अधिकारी शामिल तो नहीं है। इसके अतिरिक्त एसपी ने थाना प्रभारी को भी इस बारे में कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में पूछा गया है कि उन्होंने इस बारे में कोई संज्ञान क्यों नहीं लिया। एसपी बिलासपुर दिवाकर शर्मा ने कहा कि जिला में किसी भी सूरत में भ्रष्टाचार सहन नहीं किया जाएगा। चाहे भ्रष्टाचारी पुलिस के किसी भी रैंक पर तैनात क्यों न हो। उन्होंने बताया कि संबंधित हैड कांस्टेबल को सस्पेंड कर लाइन हाजिर कर दिया गया है उन्होंने लोगों से अपील की है कि यदि कोई पुलिसकर्मी या अधिकारी पैसा या उपहार की मांग करे तो शिकायत दें। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार से किसी प्रकार की समझौता सहन नहीं किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:  बिलासपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी, ट्रक से अवैध शराब की 450 पेटियां बरामद