हिमाचल में जल शक्ति विभाग का कारनामा नल लगे नहीं और थमा दिया बिल

सुभाष कुमार गौतम/घुमारवीं हिमाचल प्रदेश सरकार जल शक्ति विभाग का कारनामा नल लगे नहीं और थमा दिया बिल सरकार के कामों कि खुली पोल हर घर नल की योजना सिर्फ कागजों तक सीमित लोगों से नल लगाने का लिया गया था 100/100 रूपए आजतक नहीं लगे नल अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव तथा पूर्व सीपीएस राजेश धर्माणी ने वर्तमान सरकार के दावों की पोल खोलते हुए कहा है कि जल शक्ति विभाग द्वारा लाखों रुपए व्यय करके बड़े-बड़े होर्डिंग लगाकर हर घर को नल देने की बात कही जा रही है लेकिन वास्तविकता इससे परे हैं। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री भी अपनी रैलियों में जलशक्ति विभाग के कामों के लिए वर्तमान जयराम सरकार को शाबाशी देते थकते नहीं । लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में इसके विपरीत स्थिति देखने को मिल रही है । उन्होंने पत्रकारों को कुछ बिलों की प्रतियां दिखाते हुए कहा कि ऐसे बिल हैं जहां पर नल नहीं लगे हैं लेकिन फिर भी बिल आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जितना पैसा वर्तमान जय सरकार राम सरकार ने जलशक्ति विभाग के होर्डिंग लगाने में व्यय किया है अगर उतना लोगों को नल लगाकर पानी देने के लिए किया होता तो आज हर हर व्यक्ति के घर में नल लगा होता। उन्होंने कहा कि वास्तव में यह सब कुछ झूठ का पुलिंदा है और इसमें करोड़ों रुपयों का घोटाला हुआ है । उन्होंने बताया कि जैसे ही काग्रेस सरकार का गठन होगा इस सारे घोटाले की जांच करवाई जाएगी और इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा

सुभाष कुमार गौतम/घुमारवीं
हिमाचल प्रदेश सरकार जल शक्ति विभाग का एक कारनामा सामने आया है। जहां नल लगे नहीं और विभाग ने ग्रामीणों को पानी का बिल थमा दिया। इस करनामे से सरकार के कामों की पोल खुली नज़र आ रही है कि हर घर नल की योजना सिर्फ कागजों तक सीमित है। लोगों से नल लगाने के लिए 100/100 रूपए तो लिए लेकिन आजतक नल नही लगे।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव तथा पूर्व सीपीएस राजेश धर्माणी ने वर्तमान सरकार के दावों की पोल खोलते हुए कहा है कि जल शक्ति विभाग द्वारा लाखों रुपए व्यय करके बड़े-बड़े होर्डिंग लगाकर हर घर को नल देने की बात कही जा रही है लेकिन वास्तविकता इससे परे हैं।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री भी अपनी रैलियों में जलशक्ति विभाग के कामों के लिए वर्तमान जयराम सरकार को शाबाशी देते थकते नहीं। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में इसके विपरीत स्थिति देखने को मिल रही है। उन्होंने पत्रकारों को कुछ बिलों की प्रतियां दिखाते हुए कहा कि ऐसे बिल हैं जहां पर नल नहीं लगे हैं लेकिन फिर भी बिल आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जितना पैसा वर्तमान जय सरकार राम सरकार ने जलशक्ति विभाग के होर्डिंग लगाने में व्यय किया है अगर उतना लोगों को नल लगाकर पानी देने के लिए किया होता तो आज हर हर व्यक्ति के घर में नल लगा होता। उन्होंने कहा कि वास्तव में यह सब कुछ झूठ का पुलिंदा है और इसमें करोड़ों रुपयों का घोटाला हुआ है। उन्होंने बताया कि जैसे ही काग्रेस सरकार का गठन होगा इस सारे घोटाले की जांच करवाई जाएगी और इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा

हिमाचल में जल शक्ति विभाग का कारनामा नल लगे नहीं और थमा दिया बिल
हिमाचल में जल शक्ति विभाग का कारनामा नल लगे नहीं और थमा दिया बिल