उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

-10 हजार व 5 हजार मीटर की दोनों दौड़ों में हासिल किये रजत पदक

उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

चम्बा|
हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिला की ग्राम पंचायत झुलाड़ा के एक छोटे से गांव रेटा की एक सामान्य परिवार से सबंध रखने वाली उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्र स्तर पर चम्बा का नाम रौशन किया है। 2 अप्रैल से 6 अप्रैल तक होने केरल के कालीकट में आयोजित 25वीं सीनीयर फेडरेशन कप एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 10 हजार पर 5 पांच हजार मीटर की दोनों दोड़ों में रजत पदक जीत एक बार फिर चम्बा का सर गर्व से ऊंचा किया है ।

उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

बताते चलें कि सीमा के नाम इससे पहले भी राष्ट्रीस स्तर व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई गोल्ड व सिल्वर मैडल के साथ साथ चार राष्ट्रीय रिकार्ड दर्ज है। इसके आलावा भी केंद्र सरकार द्वारा चलाई खेलो इण्डिया अभियान के तहत उड़नपरी सीमा अपना लोहा मनावा चुकी है ओर स्वर्ण पदक हासिल कर चुकी है। जिसके बाद सरकार की तरफ से सीमा को 2024 के पैरिस ऑलंपिक की तैयारी हेतू विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिसके लिये आठ सालों के अंदर सरकार सीमा की बेहतर सुविधाओं के लिये चालीस लाख रु० खर्च करेगी ।

उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

वहीं सीमा ने बताया कि मेरे कोच ह्यूगो वैन डेन ब्रोक मेरी काफी मदद करते हैं वो मुझे बहुत अच्छे से प्रशिक्षित कर रहे हैं अब मैं भोपाल मध्य प्रदेश में प्रशिक्षण ले रही हूं। सीमा का लक्ष्य है 2024 के पैरिस ऑलंपिक में स्वर्ण पदक जीतना ।

इसे भी पढ़ें:  चंबा के हिलिंग गांव में भड़की आग, जिंदा जली घर में सो रही बुजुर्ग महिला
उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम

उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नामउड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नामउड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नामउड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नामउड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नामउड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम
उड़नपरी सीमा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर चमकाया चम्बा का नाम