एसएमसी अध्यापक संघ और राज्य होम गार्ड्स वेलफेयर एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से भेंट की

एसएमसी अध्यापक संघ और राज्य होम गार्ड्स वेलफेयर एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से भेंट की

प्रजासता
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से आज जिला कांगड़ा के धर्मशाला में एसएमसी अध्यापक संघ पीरियड बेसिस के अध्यक्ष मनोज रोंगटा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की। प्रतिनिधिमंडल ने वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में एसएमसी अध्यापकों के लिए पीटीए, पैरा, पैट, ईजीएस, पीरियड आधार उर्दू/पंजाबी अध्यापकों की तर्ज पर अनुबंध नीति का प्रावधान करने का आग्रह किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी 2555 एसएमसी अध्यापक राज्य में विशेषकर दूर-दराज और कठिन क्षेत्रों में छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान कर सराहनीय सेवाएं दे रहे हैं।

जय राम ठाकुर ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि राज्य सरकार उनकी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी।

संघ ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए मुख्यमंत्री को पांच लाख 55 हजार रुपये का चेक भी भेंट किया। मुख्यमंत्री ने इस योगदान के लिए संघ का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह संकट के समय लोगों को राहत प्रदान करने में सहायक सिद्ध होगा।

इसके उपरांत, राज्य होम गार्ड्स वेलफेयर एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने अध्यक्ष जोगिंदर चैधिया और वरिष्ठ उपाध्यक्ष अशोक कुमार रांगड़ा की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री से भेंट की और होमगार्ड स्वयं सेवकों के लिए नीति बनाने का आग्रह किया।

मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को उनकी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर वन मंत्री राकेश पठानिया, राज्य वूलफेड के अध्यक्ष त्रिलोक कपूर, एसोसिएशन के उपाध्यक्ष पवन कुमार नेगी, महासचिव पितांबर शास्त्री और अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।