कांग्रेस विधायक राणा की शिकायत पर PMO ने दिए MBU में फर्जी डिग्री घोटाले की जांच के आदेश

MBU की स्थापना में हुई अनियमितताएं,शिक्षा विभाग के कई पूर्व व वर्तमान अधिकारियों की बढ़ेगी मुश्किलें

प्रजासत्ता|
मानव भारती विश्‍वविद्यालय में फर्जी डिग्री घोटाले के संबंध में सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा की शिकायत पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस मामले पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। सचिव शिक्षा मंत्रालय शास्त्री भवन नई दिल्ली की ओर से स्पष्ट किया गया है कि इस मामले में कार्रवाई के निर्देश प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से दिए गए हैं।

बता दें कि इस बारे में विधायक राजेंद्र राणा को भी भारत सरकार के कार्मिक व लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय की ओर से पत्र संख्या 353/6/2021-एबीपी के माध्यम से मानव भारती विश्वविद्यालय के फर्जी डिग्री घोटाले पर कार्रवाई के निर्देश की सूचना भेजी गई है।

इसे भी पढ़ें:  पुलिस कांस्टेबल वेतन विसंगति मामला की रिपोर्ट सरकार को सौंपी :- कुंडू

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं विधायक राजेंद्र राणा मानव भारती विश्वविद्यालय में डिग्री फर्जीवाड़े को लेकर बीजेपी को विधानसभा के अंदर व बाहर घेरते आ रहे| उन्होंने सवाल खड़ा किया है कि शर्तें पूरी न होने के बावजूद मानव भारती विश्वविद्यालय को मंजूरी देने के पीछे कौन हैं। क्योंकि जब तक इसकी जांच नहीं होती है तो असली गुनाहगार को शिकंजे में लेना मुश्किल होगा।

राणा के आरोपों के मुताबिक फर्जी डिग्री कांड में 20 हजार करोड़ से ज्यादा का घोटाला हुआ है, जिसमें छह लाख के करीब फर्जी डिग्रियां बेची गई हैं। राणा इस मामले की जांच सीबीआइ से करवाने के लिए लगातार दबाव सरकार पर बनाते रहे हैं। राणा का यह भी आरोप है कि यह घोटाला सत्ता संरक्षण में हुआ है, जिसकी जिम्मेदारी सीधे तौर पर तत्कालीन भाजपा सरकार की रही है।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल सरकार ने मेडसवान फाउंडेशन को दी 108 और 102 एंबुलेंस की जिम्मेदारी

राणा का कहना है कि उक्त फर्जी डिग्री कांड ने हिमाचल प्रदेश की साख को देश और दुनिया में दागदार किया है लेकिन सरकार इस मामले से अभी भी बचना चाह रही है। राणा ने फिर सवाल खड़ा किया है कि जब इस फर्जी डिग्री कांड के मुख्य सरगना का रिकॉर्ड ही अपराधिक था तो तत्कालीन सरकार ने किस कारण वह कौन सी मजबूरी में इस यूनिवर्सिटी को चलाने की मंजूरी दी। असल गुनाहगार तो वह लोग हैं, जिन्होंने सत्ता का दुरूपयोग करते हुए शर्तें न पूरी करने के बावजूद इस यूनिवर्सिटी को चलाने व बनाने की परमीशन दी है।

इसे भी पढ़ें:  पढ़ें! हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल के निर्णय
कांग्रेस विधायक राणा की शिकायत पर PMO ने दिए MBU में फर्जी डिग्री घोटाले की जांच के आदेश
कांग्रेस विधायक राणा की शिकायत पर PMO ने दिए MBU में फर्जी डिग्री घोटाले की जांच के आदेश