कोविड-19 संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार में उचित प्रोटोकाॅल सुनिश्चित किया जाए: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर

प्रजासत्ता|
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज प्रदेश के उपायुक्तों को कोविड-19 से संक्रमित मृतकांे के अन्तिम संस्कार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा इस संबंध में जारी दिशानिर्देशों तथा प्रोटोकाॅल के अनुसार सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए ताकि मृतक के परिवार सदस्यों को कोई असुविधा न हो। उन्होंने कहा कि इस संबंध में 12 मई, 2021 को दिशानिर्देश जारी कर दिए गए हैं।

कोविड-19 संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार में उचित प्रोटोकाॅल सुनिश्चित किया जाए: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि संबंधित जिले के उपायुक्त यह सुनिश्चित करें कि कोविड-19 के मरीजों के शोक संतप्त परिजनों को मृतक के अंतिम संस्कार में जिला प्रशासन का पूरा सहयोग व सहायता मिले। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में संबंधित नगर आयुक्त, शहरी स्थानीय निकायों के कार्यकारी अधिकारी तथा सचिव नोडल अधिकारी होंगे। इन अधिकारियों को अस्पतालों से समन्वय बनाकर कार्य करना चाहिए तथा मृतक व्यक्ति के अन्तिम संस्कार के लिए पी.पी.ई. किट, डेड बाॅडी बैग, डिस्इन्फेक्टेंट्स, सेनिटाइजर, वेस्ट डिस्पोजेबल बैग आदि संसाधन प्रदान करने चाहिए।

इसे भी पढ़ें:  ब्रेकिंग! सीएम जयराम के सामने भिड़े SP कुल्लू और CM सिक्योरिटी इंचार्ज, लात-घूंसों तक पहुंची नौबत

जय राम ठाकुर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए खण्ड विकास अधिकारी अपने संबंधित क्षेत्रों में नोडल अधिकारी होंगे। उन्होंने कहा कि अस्पतालों तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को पर्याप्त पी.पी.ई. किट, डेड बाॅडी बैग, डिस्इन्फेक्टेंट्स, सेनिटाइजर, वेस्ट डिस्पोजेबल बैग आदि प्रदान किए जाएंगे ताकि प्रोटोकाॅल के अनुसार अंतिम संस्कार करने वाले व्यक्तियों को यह सभी सामग्री उपलब्ध करवाई जा सके। उन्होंने कहा कि खण्ड विकास अधिकारियों को अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, पंचायतों, पंचायत सचिवों और पटवारियों के साथ समन्वय से कार्य करना चाहिए ताकि मृतक के अंतिम संस्कार में शोक संतप्त परिवारों को कोई असुविधा न हो। उन्होंने मृतक के अंतिम संस्कार से संबंधित सभी मुद्दोें के निवारण के लिए नोडल अधिकारियों को उचित संचार तथा सूचना माध्यमों को सुनिश्चित करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को संकट के समय में किसी भी तरह की सहायता के लिए शहरी निकायों के अधिकारियों, कार्यकारी अधिकारियों, सचिवों तथा ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित पंचायत सचिवों व पटवारियों से सम्पर्क करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:  ब्रेकिंग! कुल्लू विवाद में एसपी व सुरक्षा प्रभारी को पदों से हटाया गया,सीएम के पीएसओ पर भी कार्रवाई

मुख्यमंत्री ने सामाजिक, धार्मिक तथा गैर-सरकारी संस्थाओं से कोविड-19 के कारण मृत व्यक्ति के अंतिम संस्कार में शोक संतप्त परिवार के सदस्यों को पूरा सहयोग प्रदान करने का भी आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि यह मानवता की श्रेष्ठ सेवा होगी तथा मुश्किल समय में शोक संतप्त परिवार के लिए बड़ी सहायता होगी।

जय राम ठाकुर ने विधायकों से आग्रह किया कि स्थानीय प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग के साथ उचित समन्वय के साथ-साथ मृतक के परिवार सदस्यों के साथ उचित सम्पर्क बनाना सुनिश्चित करें ताकि मृतक व्यक्ति का अंतिम संस्कार केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किए गए दिशानिर्देशों तथा प्रोटोकाॅल के अनुसार किया जा सके। उन्होंने विधायकों से मृतक व्यक्ति के परिवार सदस्यों के साथ सम्पर्क बनाने का आग्रह किया ताकि इस मुश्किल घड़ी में उनका मनोबल बढ़ाया जा सके।

इसे भी पढ़ें:  एम्स बिलासपुर में एक जुलाई से शुरू होंगी एमबीबीएस की ऑफलाइन कक्षाएं
कोविड-19 संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार में उचित प्रोटोकाॅल सुनिश्चित किया जाए: मुख्यमंत्री
कोविड-19 संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार में उचित प्रोटोकाॅल सुनिश्चित किया जाए: मुख्यमंत्री