जयराम सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने जारी की चार्जशीट, कहा- इतिहास उन्हें नौकरियां बेचने वाले CM के तौर पर याद करेगा

हिमाचल वि धानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस जयराम सरकार के खिलाफ चार्जशीट ले आई है। कांग्रेस कार्यालय में पवन खेड़ा, मुकेश अग्निहोत्री और सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने ये चार्जशीट जारी की है। पार्टी ने राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उनके कुछ मंत्रियों के खिलाफ चार्जशीट पेश की। कांग्रेस द्वारा पेश की गई चार्जशीट में पार्टी ने दावा किया है कि भाजपा सरकार ने बीते 5 साल में खूब भ्रष्टाचार किया है। पार्टी अब इसे राज्यपाल को सौंपेगी और फिर जनता के बीच भी लेकर जाएगी। इसके अलावा, कांग्रेस की सरकार बनी तो सभी मामलों की जांच कराने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। राजधानी शिमला में कांग्रेस के चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने बताया कि सीएम ऑफिस ही नहीं बल्कि, उनकी सरकार में मंत्रियों के कार्यालय भी भ्रष्टाचर में शामिल रहे हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के करीबी मंत्रियों ने तो भ्रष्टाचार की हदें पार कर दी हैं। इसके अलावा, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने दावा किया कि राज्य में पहली बार नौकरियां बेची गई हैं और ऐसे में भविष्य में जयरामg ठाकुर को नौकरियां बेचने वाले मुख्यमंत्री के तौर पर याद किया जाएगा। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि नौकरियों के लिए 6 से 8 लाख रुपए तक का लेनदेन हुआ है। खासकर पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में पेपर लीक मामले में पुलिस हेडक्वॉर्टर से लेकर सचिवालय तक के अधिकारी शामिल रहे, मगर मुख्यमंत्री ने सभी को क्लीनचिट दे दी। पार्टी ने पाइप खरीद में घोटाले का दावा भी किया। साथ ही, रैलियों पर बेहिसाब खर्च का आरोप भी लगाया गया है।

शिमला ब्यूरो।
हिमाचल विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस जयराम सरकार के खिलाफ चार्जशीट ले आई है। कांग्रेस कार्यालय में पवन खेड़ा, मुकेश अग्निहोत्री और सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने ये चार्जशीट जारी की है। पार्टी ने राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उनके कुछ मंत्रियों के खिलाफ चार्जशीट पेश की।

कांग्रेस द्वारा पेश की गई चार्जशीट में पार्टी ने दावा किया है कि भाजपा सरकार ने बीते 5 साल में खूब भ्रष्टाचार किया है। पार्टी अब इसे राज्यपाल को सौंपेगी और फिर जनता के बीच भी लेकर जाएगी। इसके अलावा, कांग्रेस की सरकार बनी तो सभी मामलों की जांच कराने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इसे भी पढ़ें:  ड्रग्स कनेक्शन! श्रद्धा हत्याकांड में जांच के लिए हिमाचल प्रदेश पहुंची दिल्ली पुलिस

राजधानी शिमला में कांग्रेस के चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने बताया कि सीएम ऑफिस ही नहीं बल्कि, उनकी सरकार में मंत्रियों के कार्यालय भी भ्रष्टाचर में शामिल रहे हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के करीबी मंत्रियों ने तो भ्रष्टाचार की हदें पार कर दी हैं। इसके अलावा, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने दावा किया कि राज्य में पहली बार नौकरियां बेची गई हैं और ऐसे में भविष्य में जयरामg ठाकुर को नौकरियां बेचने वाले मुख्यमंत्री के तौर पर याद किया जाएगा।

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि नौकरियों के लिए 6 से 8 लाख रुपए तक का लेनदेन हुआ है। खासकर पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में पेपर लीक मामले में पुलिस हेडक्वॉर्टर से लेकर सचिवालय तक के अधिकारी शामिल रहे, मगर मुख्यमंत्री ने सभी को क्लीनचिट दे दी। पार्टी ने पाइप खरीद में घोटाले का दावा भी किया। साथ ही, रैलियों पर बेहिसाब खर्च का आरोप भी लगाया गया है।

इसे भी पढ़ें:  पढ़िए दिलचस्प कहानी: 7 साल बाद 'लामा' का पुनर्जन्म, 4 साल के बच्चे को माना बौद्ध धर्मगुरु
जयराम सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने जारी की चार्जशीट, कहा- इतिहास उन्हें नौकरियां बेचने वाले CM के तौर पर याद करेगा
जयराम सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने जारी की चार्जशीट, कहा- इतिहास उन्हें नौकरियां बेचने वाले CM के तौर पर याद करेगा