प्रियंका गांधी के लिए हिमाचल का चुनाव बड़ा इम्तिहान

हिमाचल में प्रियंका संभालेंगी चुनाव प्रचार की कमान

हिमाचल प्रदेश चुनाव प्रचार अंतिम दौर में हैं। कांग्रेस की तरफ से पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा चुनाव प्रचार का जिम्मा संभाल रही हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश के बाद यह चुनाव प्रियंका के लिए बड़ा इम्तिहान साबित हो सकता है।

उत्तर प्रदेश में हार के कई कारण रहे, पर सीधा असर प्रियंका गांधी की छवि पर पड़ा। लिहाजा, हिमाचल प्रदेश से काफी उम्मीदें हैं क्योंकि वही कांग्रेस का मुख्य चेहरा हैं। ऐसे में यहां हार या जीत का असर उनकी राजनीति छवि पर पड़ना लाजिमी है।

प्रियंका गांधी हिमाचल की चारों संसदीय क्षेत्रों में एक-एक बड़ी रैली के साथ कई छोटी सभाएं और रोड शो कर रही हैं। पार्टी चुनाव जीतती है, तो इसका सीधा श्रेय उन्हें दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:  ड्रग्स कनेक्शन! श्रद्धा हत्याकांड में जांच के लिए हिमाचल प्रदेश पहुंची दिल्ली पुलिस

राजनीतिक जानकार मानते हैं कि प्रियंका गांधी ने यूपी चुनाव में बहुत मेहनत की थी। हिमाचल प्रदेश में भी वह पूरा वक्त दे रही हैं। ऐसे में इन चुनाव में पार्टी बेहतर प्रदर्शन नहीं करती है, तो विरोधी खेमा प्रियंका को चुनावी राजनीति में बेअसर साबित कर सकता है। ऐसे में भविष्य में होने वाले चुनाव में उन पर दबाव बढ़ जाएगा।

पार्टी ने वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से ठीक दो महीने पहले प्रियंका को महासचिव नियुक्त करते हुए उन्हें पूरी यूपी की जिम्मेदारी दी थी। इसके बाद उन्हें पूरे प्रदेश का प्रभारी महासचिव बना दिया गया। लोकसभा चुनाव में पार्टी सिर्फ एक सीट जीत पाई और विधानसभा चुनाव में सिर्फ दो सीटें मिलीं, जबकि प्रियंका ने 100 से ज्यादा रैलियां, 42 रोड शो किए थे।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल में लोक अदालत में एक साथ हुई 1.13 लाख मामलों की सुनवाई, पहली बार में निपटाए गए हजारों केस
प्रियंका गांधी के लिए हिमाचल का चुनाव बड़ा इम्तिहान
प्रियंका गांधी के लिए हिमाचल का चुनाव बड़ा इम्तिहान