भाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासित

भाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासित

प्रजासत्ता ब्यूरो|
कांगड़ा जिले की कांगड़ा सीट के कांग्रेस विधायक पवन काजल,और सोलन जिले की नालागढ़ सीट के विधायक लखविंद्र राणा के मंगलवार को भाजपा में जाने के चर्चाओं के बाद कांग्रेस आलाकमान ने आनन फानन में पार्टी से छ:साल के लिए निष्कासित कर दिया। अंतत: हिमाचल कांग्रेस के यह दोनों विधायक पवन काजल और लखविंद्र राणा बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए।

उल्लेखनीय है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इसी साल मई माह ही पवन काजल को हिमाचल कांग्रेस का वर्किंग प्रेजिडेंट बनाया था। उनके भाजपा में जाने की अटकलों के बीच बीती शाम ही कांग्रेस ने इस पद से हटा दिया था। इसी तरह लखविंद्र राणा भी प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष रहे हैं।

अखिल भारतीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य प्रदेश मामलों के प्रभारी राजीव शुक्ला के अनुमोदन के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कांग्रेस विधायक पवन काजल व लखविंद्र सिंह राणा को छह साल के लिए तुरंत प्रभाव से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। इसी बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने ब्लाक कांग्रेस कमेटी कांगड़ा को भी तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। इस संदर्भ में कांग्रेस सगंठन महामंत्री रजनीश किमटा ने अधिसूचना जारी कर दी है।

विज्ञापन भाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासित भाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासितभाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासित
भाजपा में शामिल होने से पहले ही काजल व राणा छ: साल के लिए कांग्रेस से किया निष्‍कासित