मुख्यमंत्री ने की MBBS प्रशिक्षुओं के लिए मासिक स्टाइपेंड में 3000 रुपये की वृद्धि की घोषणा

मुख्यमंत्री ने की MBBS प्रशिक्षुओं के लिए मासिक स्टाइपेंड में 3000 रुपये की वृद्धि की घोषणा

कांगड़ा।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालय टांडा देश के शीर्ष आयुर्विज्ञान संस्थानों में अपनी जगह बना रहा है। वह आज शाम टांडा स्थित महाविद्यालय परिसर में केंद्रीय छात्र संघ (कनेक्सस) द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम-‘संस्कृति’ में संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि वर्ष 2018 में एक प्रसिद्ध पत्रिका द्वारा किए गए सर्वेक्षण के अनुसार इस संस्थान की ओवरऑल रैंकिंग 35 से 25वें स्थान तक पहुंच गई थी और वर्तमान में यह 13वें स्थान पर है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के इतिहास में पहली बार चिकित्सकांे के 500 नए पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की गई है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने एमबीबीएस प्रशिक्षुओं का स्टाईपेंड 17,000 रुपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 20,000 रुपये करने की घोषणा की। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन के लिए अपनी ऐच्छिक निधि से 5 लाख रुपये देने की घोषणा भी की।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल में लोक अदालत में एक साथ हुई 1.13 लाख मामलों की सुनवाई, पहली बार में निपटाए गए हजारों केस

मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की उदार सहायता और डबल इंजन सरकार के कारण हिमाचल ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 5 अक्तूबर को बिलासपुर में एम्स का लोकार्पण करने जा रहे हैं, जो प्रदेश के लोगों के लिए यह एक और गौरवमयी अवसर होगा।

एमबीबीएस प्रशिक्षुओें से मानवता के प्रति अपनी सर्वश्रेष्ठ और पेशेवर सेवाएं सुनिश्चित करने की अपील करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड महामारी के दौरान डॉक्टरों, पैरा मेडिकल स्टाफ और सफाई कर्मचारियों ने बहुत ही सराहनीय सेवाएं प्रदान की थीं। इनकी संयुक्त सेवाओं और आम लोगों की भागीदारी के कारण हिमाचल प्रदेश कोविड रोधी टीकाकरण में देश भर में प्रथम रहा। इससे पहले, मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्ज्वलित करके सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ किया।
इस अवसर पर मेडिकल प्रशिक्षुओं ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।

इसे भी पढ़ें:  ड्रग्स कनेक्शन! श्रद्धा हत्याकांड में जांच के लिए हिमाचल प्रदेश पहुंची दिल्ली पुलिस

नगरोटा बगवां के विधायक अरुण कुमार ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री महाविद्यालय के उत्थान के लिए सदैव तत्पर रहे हैं। डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालय टांडा के प्रधानाचार्य डॉ. भानु अवस्थी ने मुख्यमंत्री को टोपी, शॉल और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। उन्होंने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और पिछले पांच वर्षों के दौरान आयुर्विज्ञान महाविद्यालय की प्रमुख उपलब्धियों का ब्यौरा दिया।

केंद्रीय छात्र संघ के अध्यक्ष राघव राणा ने कोरोना महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर द्वारा उठाए गए कदमों की सराहना की। उन्होंने एमबीबीएस की सीटें बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद भी किया।

इसे भी पढ़ें:  फार्मा हब बद्दी में बनी नकली दवाओं को लेकर हिमाचल सरकार ने देशभर में जारी किया अलर्ट

इस अवसर पर विधायक अरुण कुमार व विशाल नेहरिया, राज्य वूल फेडरेशन के अध्यक्ष त्रिलोक कपूर, जिला परिषद के अध्यक्ष रमेश बराड़, उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल, पुलिस अधीक्षक खुशाल शर्मा, राज्य बास्केटबॉल एसोसिएशन के अध्यक्ष मुनीष शर्मा, डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालय के संयुक्त निदेशक अरविंद शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने की MBBS प्रशिक्षुओं के लिए मासिक स्टाइपेंड में 3000 रुपये की वृद्धि की घोषणा
मुख्यमंत्री ने की MBBS प्रशिक्षुओं के लिए मासिक स्टाइपेंड में 3000 रुपये की वृद्धि की घोषणा