मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्र सम्मान समारोह में 10वीं तथा 12वीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया

मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्र सम्मान समारोह में 10वीं तथा 12वीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया

शिमला।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां अमर उजाला समूह की ओर से आयोजित मेधावी छात्र सम्मान समारोह की अध्यक्षता की। समारोह में हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की दसवीं तथा बारहवीं कक्षा की वार्षिक परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 216 मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। इनमें 10वीं कक्षा के 103 और 12वीं कक्षा के 113 टॉपर्स शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज यहां उपस्थित मेधावी छात्रों को उनकी कड़ी मेहनत का फल प्राप्त हुआ है और हम सभी के जीवन में यह अविस्मरणीय पल होते हैं। उन्होंने विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि शिक्षा के उपरांत जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में यह छात्र नई ऊंचाइयां प्राप्त करेंगे और अलग-अलग क्षेत्रों में जाकर हिमाचल प्रदेश का नाम रोशन करेंगे। उन्होंने छात्रों को निरंतर परिश्रम करते हुए प्रतिस्पर्धा के इस दौर में लक्षित रहकर केंद्रित प्रयास करने का भी आहवान किया ताकि वे एक सफल भविष्य की नींव रख सकें। उन्होंने अभिभावकों से भी आग्रह किया कि वे पूर्ण जिम्मेवारी से बच्चों को कड़ी मेहनत के लिए प्रेरित करें, क्योंकि उनके पहले गुरु माता-पिता ही होते हैं और बच्चों को भी उनका सम्मान करना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रौद्योगिकी के इस युग में संस्कारित एवं एक स्वस्थ वातावरण प्रदान करना बच्चों के भविष्य के लिए आवश्यक है। इसके लिए अभिभावकों और शिक्षकों को सामूहिक प्रयास करने होंगे। उन्होंने कहा कि नशे जैसी कुरीतियों के प्रति सतर्क एवं सजग रहते हुए बच्चों को एक बेहतरीन भविष्य प्रदान करना हम सभी की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि पढ़ाई के साथ-साथ बच्चों को खेलों तथा अन्य गतिविधियों में भी सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए प्रेरित करें, ताकि विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास हो सके और वे नशे आदि से दूर रहें।
इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए अमर उजाला समूह को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में अपनी अलग पहचान कायम करने वाला यह समूह स्वतंत्र एवं तटस्थ पत्रकारिता के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता के साथ-साथ अमर उजाला समूह द्वारा छात्रों का उत्साहवर्धन करने का यह पुण्य का कार्य प्रशंसनीय है और इससे विशेष तौर पर ग्रामीण स्तर पर छात्र-छात्राओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का एक मंच उपलब्ध हुआ है और अन्य छात्र भी इससे प्रोत्साहित होते हैं।

इसे भी पढ़ें:  पढ़िए दिलचस्प कहानी: 7 साल बाद 'लामा' का पुनर्जन्म, 4 साल के बच्चे को माना बौद्ध धर्मगुरु

उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा आधुनिक समय की मांग है और हमारी सरकार गुणात्मक शिक्षा मुहैया करवाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के स्कूलों में मिल रही गुणात्मक शिक्षा से प्रदेश के बच्चों का भविष्य संवर रहा है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के अस्तित्व में आने से लेकर अब तक प्रदेश ने शिक्षा के क्षेत्र में आशातीत प्रगति की है। हिमाचल साक्षरता दर में देश के अग्रणी राज्यों में शुमार है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई पर कोई असर न पड़े, इसके लिए हर घर पाठशाला के अन्तर्गत ऑनलाइन पढ़ाई की व्यवस्था की गई। छात्रों को व्हाट्सएप और वेबसाइट के माध्यम से जोड़ा गया। इस दौरान करीब दो लाख व्हाट्सएप ग्रुप बनाए गए, जिनसे 80 प्रतिशत विद्यार्थियों को कार्यक्रम के तहत शामिल किया गया।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल में लोक अदालत में एक साथ हुई 1.13 लाख मामलों की सुनवाई, पहली बार में निपटाए गए हजारों केस

जय राम ठाकुर ने कहा कि कोविड महामारी के दौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में देश तेजी से इससे उबरने में सफल रहा। प्रधानमंत्री ने न केवल हमारे वैज्ञानिकों को स्वदेशी वैक्सीन बनाने के लिए प्रेरित किया बल्कि देश में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान भी सफलतापूर्वक संचालित किया गया।

इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, कृषि, पशुपालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित हुए। इससे पहले, अमर उजाला समूह के सलाहकार संपादक उदय कुमार ने मुख्यमंत्री व अन्य विशिष्ट अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि कोरोना के बावजूद हिमाचल प्रदेश में सरकार ने शिक्षा व्यवस्था सुचारू बनाए रखी। उन्होंने राज्य शिक्षा बोर्ड एवं अभिभावकों का भी इस समारोह को सफल बनाने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अमर उजाला मेधावी छात्र सम्मान समारोह का यह 19वां कार्यक्रम है। यह कार्यक्रम वर्ष 2002 से आयोजित कर रहे हैं। हालांकि कोविड काल में यह समारोह दो बार आयोजित नहीं हो सका। अब हालात जब सामान्य हो रहे हैं तो एक बार फिर इस समारोह का आयोजन हो रहा है। अमर उजाला समूह का इस आयोजन के माध्यम से लोगों के जीवन स्तर में सुधार का भी एक प्रयास है।
समारोह में एपीएमसी शिमला के अध्यक्ष नरेश शर्मा, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के निदेशक हरबंस सिंह ब्रसकोन, अमर उजाला समूह के स्थानीय संपादक राकेश भट्ट और शिमला यूनिट के हेड धीरज रोमन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
.0.

इसे भी पढ़ें:  फार्मा हब बद्दी में बनी नकली दवाओं को लेकर हिमाचल सरकार ने देशभर में जारी किया अलर्ट
मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्र सम्मान समारोह में 10वीं तथा 12वीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया
मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्र सम्मान समारोह में 10वीं तथा 12वीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया