राजस्थान के लिए इंटरस्टेट बसें न चलने से कांगड़ा के विस्थापितों तथा किसानों को हो रहा भारी नुकसान

राजस्थान के लिए इंटरस्टेट बसें न चलने से कांगड़ा के विस्थापितों तथा किसानों को हो रहा भारी नुकसा

– में फसल बीजने का समय जोरों पर , कांगड़ा के किसान मुश्किल में
अनिल शर्मा। रैहन
हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम ने अपनी इंटरस्टेट बस सेवा शुरू कर दी है परन्तु राजस्थान के रूट पर चलने वाली बसें चालू नही की हैं जिससे किसानो को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। राजस्थान की तरफ चलने वाले दो रूटों पठानकोट – घड़साना तथा धर्मशाला-अनूपगढ़ पर बस सेवा बहाल नही की गई है जिससे किसानों को भारी नुकसान हो रहा है।

क्योंकि आजकल राजस्थान में सरसों बीजने का सीजन है तथा कांगड़ा के किसान जिनके राजस्थान में मुरब्बे हैं उनके लिए काफी समस्या हो रही है उन्हें किराए की गाड़ियों में जाना पड़ रहा है दूसरी तरफ जिन लोगों को राजस्थान में मुरब्बे अलॉट हुए हैं उनके लिए भी समस्या बनी है क्योंकि किराए पर की गई गाड़ी महंगे दामो में ले जा रही है जिससे किसान शोषण का शिकार हो रहे हैं।

HRTC ने बीते दिनों अन्य राज्यों के लिए बस सेवा शुरू कर दी है परन्तु राजस्थान जोकि सबसे जरूरी थी उसे बन्द ही रखा। कांगड़ा के किसानों को डर है कि कहीं उनका ये सीजन खराब न हो जाए जिससे उनको लाखों की चपत लग सकती है।

लोगों ने सरकार से मांग उठाई है कि जल्द से जल्द बस सेवा बहाल की जाए ताकि विस्थापित तथा किसान राजस्थान में अपने भूमि संबंधित काम करवा सकें।