हरदीप बावा व नरदेव कंवर को कांग्रेस अनुशासन समिति ने जारी किया कारण बताओ नोटिस

हरदीप बावा व नरदेव कंवर को कांग्रेस अनुशासन समिति ने जारी किया कारण बताओ नोटिस

प्रजासत्ता ब्यूरो|
हिमाचल प्रदेश कांग्रेस पार्टी ने पार्टी नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी करने के मामले में दो
नेताओं के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी किया है जिन नेताओं को नोटिस जरी हुआ है उनमे
प्रदेश कांग्रेस पार्टी के महासचिव एवं इंटक अध्यक्ष हरदीप सिंह बावा व कांग्रेस मत्स्य विभाग के अध्यक्ष एवं संगठनात्मक जिला देहरा के पूर्व अध्यक्ष नरदेव कंवर शामिल है। नोटिस के अनुसार दोनों को एक सप्ताह के भीतर दोनों पदाधिकारियों को अपना जवाब भेजने के निर्देश दिए हैं। यह नोटिस रजिस्टर्ड डाक से भेजा है।

कांग्रेस अनुशासन समिति की अध्यक्ष विप्लव ठाकुर की ओर से यह नोटिस जारी किया गया है। दोनों पर संगठन के खिलाफ सवाल उठाने और कांग्रेस के निर्वाचित विधायक के खिलाफ बयानबाजी करने के आरोप हैं। विप्लव ठाकुर ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए कोई भी कार्यकर्ता मीडिया, इंटरनेट मीडिया में पार्टी का प्रचार प्रसार कर सकता है, लेकिन उसमें किसी भी नेता के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं कर सकता। इसको लेकर पहले ही निर्देश जारी किए जा चुके हैं। विप्लव ठाकुर ने कहा कि किन्नौर और कुल्लू जिला से भी काफी शिकायतें आई हैं। ज्यादातर शिकायतें अनुशासनहीनता की हैं। इसको लेकर पूरी रिपोर्ट मांगी गई है। जल्द ही इस पर भी कार्रवाई होगी।

पार्टी सूत्रों के अनुसार दोनों नेताओं को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ मीडिया में बयानबाजी करना भारी पड़ा है। इन नेताओं पर आरोप है कि गत 8 अगस्त को इन नेताओं ने पार्टी नेता के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी की थी। इसकी शिकायत तथ्यों के साथ ब्लॉक और प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति के पास भी की गई थी। बता दें कि इससे पहले बावा ने कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ वर्ष 2017 में नालागढ़ विधानभा सीट से चुनाव लड़ा था और करीब सात हजार वोट हासिल किए थे। इसके बाद भी कांग्रेस प्रत्याशी लखविंद्र राणा चुनाव जीत गए थे। फिर बावा को पार्टी से छह साल के निष्कासित कर दिया गया था। इसके बाद हरदीप बावा की पार्टी में बहाली कर दी गई थी।

हरदीप बावा व नरदेव कंवर को कांग्रेस अनुशासन समिति ने जारी किया कारण बताओ नोटिस
हरदीप बावा व नरदेव कंवर को कांग्रेस अनुशासन समिति ने जारी किया कारण बताओ नोटिस