हिमाचल के चुनाव में राम मंदिर, बाबर और औरंगजेब की हुई एंट्री

प्रजासत्ता ब्यूरो।
हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने पुरानी सियासी रिवायतों को तोड़कर एक बार फिर सरकार बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। ऐसे में हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार में राम मंदिर से लेकर बाबर और औरंगजेब तक की बात हो रही है।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा में जहां राम मंदिर का मुद्दा उछाला, तो केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इसे दोहराया। हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि साल 2023 के अंत तक जब अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनेगा, तो यह विश्व का सबसे बड़ा मंदिर होगा। यह भारत का राष्ट्र मंदिर होगा और हर भारतवासी गौरव की अनुभूति कर पाएगा। इस दौरान सीएम योगी ने लोगों से पूछा कि क्या कांग्रेस अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करा पाती? उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान राम के मंदिर के निर्माण में कांग्रेस बैरियर बन रही थी।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल में लोक अदालत में एक साथ हुई 1.13 लाख मामलों की सुनवाई, पहली बार में निपटाए गए हजारों केस

वहीं ऊना में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 2024 तक यूपी में राम मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर को कभी बाबर ने अपनी हुकूमत में तोड़ा था, लेकिन पीएम मोदी उस मंदिर को बनवा रहे हैं। उन्होंने कहा, “सभी चाहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर बने, लेकिन तुष्टीकरण की राजनीति के कारण कांग्रेस पार्टी राम मंदिर बनाना नहीं चाहती थी। वो कहते थे मंदिर वहीं बनाएंगे, लेकिन तिथि नहीं बताएंगे। राहुल बाबा, तिथि चली भी गई और 2024 में अयोध्या चले जाना, गगनचुंबी राम मंदिर वहां दिखाई पड़ेगा।” साथ ही उन्होंने औरंगजेब का भी जिक्र किया। गृह मंत्री ने कहा कि औरंगजेब ने काशी विश्वनाथ तोड़ा था, हमलोगों ने बनवाया।
इस तरह राम मंदिर, बाबर और औरंगजेब की पिच पर बीजेपी विपक्ष को किनारे लगाने में जुट गई है।

इसे भी पढ़ें:  ड्रग्स कनेक्शन! श्रद्धा हत्याकांड में जांच के लिए हिमाचल प्रदेश पहुंची दिल्ली पुलिस
हिमाचल के चुनाव में राम मंदिर, बाबर और औरंगजेब की हुई एंट्री
हिमाचल के चुनाव में राम मंदिर, बाबर और औरंगजेब की हुई एंट्री