हिमाचल के ट्रक ऑपरेटरों को प्रदेश सरकार द्वारा एक और बड़ा झटका

एशिया की सबसे बड़ी ट्रक यूनियन ने कम किया मालभाड़ा

बद्दी।
हिमाचल प्रदेश के ट्रक ऑपरेटरों को हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा एक और बड़ा झटका दिया है। जहां हिमाचल प्रदेश सरकार ने प्रदेश के निजी बस ऑपरेटर का गुड्स टैक्स माफ किया है, वही हिमाचल प्रदेश के ट्रक ऑपरेटरों को टेक्स गुड्स टैक्स का बड़ा झटका दिया है । जानकारी के अनुसार पहले जहां यह गुड्स टैक्स 6 टायर वाली गाड़ी का 6000 और 10 टायर वाली गाड़ी का 10000 पर हुआ करता था अब यह टेक्स 6 चक्की की गाड़ी का 10000 , 10 टायर वाली गाड़ी गाड़ी का 15000 रुपए गुड्स टैक्स कर दिया है। इससे पूरे प्रदेश के ट्रक ऑपरेटर प्रभावित होंगे।

इसे भी पढ़ें:  पुलिस कांस्टेबल वेतन विसंगति मामला की रिपोर्ट सरकार को सौंपी :- कुंडू

वहीं इस मामले को लेकर दून के पूर्व विधायक एवं कांग्रेस नेता राम कुमार ने कहा है कि पहले यह टैक्स एक्साइज विभाग वसूल करता था अब यह पावर आरटीओ को दे दी गई है और बिना टैक्स की क्लीयरेंस के गाड़ी की पासिंग बंद कर दी गई है जो कि सरकार द्वारा ट्रक ऑपरेटरों के ऊपर बहुत बड़ा बोझ डाल दिया है और जिन गाड़ियों के पिछले टैक्स जमा नहीं किए गए हैं उनके ऊपर 18 परसेंट ब्याज और पेनल्टी के साथ उनको एनओसी जारी होगा जिससे कई ट्रक ऑपरेटर्स की गाड़ियां बिक बिक जाएंगी। जोकि ट्रक ऑपरेटरों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है।

इसे भी पढ़ें:  ड्रग अलर्ट: हिमाचल प्रदेश में बनने वाली 6 जीवनरक्षक दवाओं सैंपल फेल

उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मांग कि है कि जैसे इन्होंने पिछले सभी प्रकार के टैक्स बस ऑपरेटर्स के माफ़ किए हैं उसी तर्ज पर ट्रक ऑपरेटरों के पुराने डिफॉल्ट गुड्स टैक्स माफ करें जहां ट्रक ऑपरेटर महंगे डीजल की मार महंगे टायरों की मार महंगे स्पेयर पार्ट की मार महंगी चीज की मार महंगी इंश्योरेंस की मार और मंदी की मार झेल रहे हैं दूसरा उद्योगों द्वारा सरकार के पैसे से इनके किराया भी दिखा दे गए हैं, इसलिए मेरी सरकार से मांग है कि कि जिस तरीके से बसों के पुराने टैक्स माफ किए हैं उसी तर्ज पर हिमाचल प्रदेश के ट्रक ऑपरेटर्स के गुड्स टैक्स माफ करें अन्यथा मजबूरन हिमाचल के ट्रक ऑपरेटर्स को स्ट्राइक पर जाना पड़ेगा इसकी जिम्मेदार सरकार होगी।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल सरकार ने मेडसवान फाउंडेशन को दी 108 और 102 एंबुलेंस की जिम्मेदारी
हिमाचल के ट्रक ऑपरेटरों को प्रदेश सरकार द्वारा एक और बड़ा झटका
हिमाचल के ट्रक ऑपरेटरों को प्रदेश सरकार द्वारा एक और बड़ा झटका