हिमाचल दिवस पर पेंशनर्स और कर्मचारी निराश, कोरोना वॉरियर्स को अतिरिक्त वेतन, होटल इंडस्ट्री को मरहम

इन कर्मचारियों के लिए मानदेय की घोषणा, होटल इंडस्ट्री को बड़ी राहत, पैसेंजर टैक्स में भी छूट

प्रजासत्ता|
हिमाचल दिवस पर मंडी में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम में सूबे के कर्मचारियों को निराशा हाथ लगी है| जयराम सरकार से कर्मचारी मंहगाई भत्ते के बढ़ने की उम्मीद लगाए थे, वहीं एनपीएस कर्मचारियों को भी उम्मीद थी की उनके हित में कोई घोषणा होगी लेकिन ऐसी कोई घोषणा सीएम ने नहीं की है| हालांकि, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच जयराम ठाकुर ने कोरोना योद्धा को अतिरिक्त मानदेय देने की घोषणा की है| वहीं, हिमाचल की टूरिज्म इंडस्ट्री को भी हलकी राहत दी गई है|

हिमाचल दिवस पर सीएम ने ऐलान किया कि वार्ड सिस्टर, वार्ड नर्स, आशा वर्कर, वार्ड ब्यॉय को दो महीने तक 1500 रुपए अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा| इसके अलावा, कोरोना के चलते प्रभावित हुए पर्यटन व्यवसाय में होटलियर्स की इंट्रस्ट सबमिशन स्कीम को दो माह तक बढ़ाया जाएगा और बिजली पानी का डिमांड चार्ज भी दो माह तक नहीं लिया जाएगा| इसी तरह निजी स्कूलों के लिए डिमांड चार्ज नहीं लिए जाएंगे|

इसे भी पढ़ें:  दलाई लामा ने लगवाया कोरोना टीका, लोगों से की ये अपील

बता दें कि हिमाचल दिवस पर सीएम जयराम ठाकुर ने घोषणा करते हुए कहा कि कोविड काल मे सेवाएं देने वाले तृतीय व चतुर्थ श्रेणी कर्मियों को दो माह तक 1500 रुपये का मानदेय दिया जाएगा। होटल इंडस्ट्री को राहत देते हुए सीएम ने डिमांड चार्ज दो माह तक स्थगित करने की घोषणा की। पैसेंजर टैक्स में तीन माह तक 50 फीसदी छूट देने की घोषणा की।

उन्होंने यह घोषणा भी की कि राज्य परिवहन में लगने वाले राज्य सड़क कर में अप्रैल से जून महीनों तक 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। इसके अतिरिक्त, कांट्रेक्ट कैरिज और टैक्सियों आदि को भी यात्री कर में अप्रैल से जून तक तीन महीने के लिए 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें:  हिमाचल में आधी रात को हिली धरती,रिक्टर पैमाने पर 3 रही तीव्रता