हिमाचल में रिकॉर्ड बर्फबारी,650 सड़कें बंद, 400 बसें फंसीं

रिकॉर्ड बर्फबारी से सड़कें हुईं जाम

प्रजासत्ता |
देवभूमि हिमाचल प्रदेश एक बार फिर बर्फबारी से गुलजार हो गई है| प्रदेश के सभी ऊंचाई वाले स्थानों बर्फ गिरने से पहाड़ चांदी की परत से ढके महसूस हो रहे हैं| शिमला, मनाली, किन्नौर, लाहौल-स्पीति, चंबा, मंडी, सिरमौर और कांगड़ा के कई इलाकों में खासी बर्फबारी होने से मौसम खुशनुमा हो गया है|

प्रदेश में जारी भारी बर्फबारी से तीन नेशनल हाईवे समेत करीब 650 सड़कें बंद हो गई हैं। प्रदेश भर में 472 बस रूट प्रभावित हैं और परिवहन निगम की 400 से अधिक बसें जगह-जगह फंस गई हैं। बर्फबारी और खराब मौसम को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटकों और लोगों से पहाड़ों की ओर न जाने की अपील की है।

हिमाचल के आठ जिलों के ऊंचाई वाले क्षेत्र बर्फ के लकदक हो गए हैं।राजधानी का अपर शिमला से संपर्क कट गया है। लाहौल, किन्नौर और पांगी घाटी भी अलग-थलग पड़ गई है। सड़कों को बहाल करने के लिए लोक निर्माण विभाग के 25 हजार कर्मचारी और पांच हजार मशीनें जुट गई हैं।

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के आठ जिलों में शुक्रवार को भी बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान है। मैदानी जिलों ऊना, कांगड़ा, हमीरपुर और बिलासपुर में शुक्रवार से मौसम साफ रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू, चंबा, किन्नौर व लाहौल-स्पीति में शुक्रवार को मौसम खराब बना रहने की संभावना जताई है। पूरे प्रदेश में छह से दस फरवरी तक मौसम साफ रहने की संभावना है।