आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाई

अनिल शर्मा।
राजपूत सर्वहित कल्याण सभा फतेहपुर की बैठक रविवार को रैस्ट हाऊस फतेहपुर में सभा प्रधान रघुबीर पठानिया की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई ।
जिसमे सभा चेयरमैन राघब पठानिया विशेष तौर पर उपस्थित रहे ।
बैठक दौरान सर्वप्रथम सभा की सदस्यता बढाने पर बल दिया गया ।
जिसके लिए जल्द ही गाँव स्तर पर सदस्यता अभियान शुरू करने पर सहमति बनी ।
तो वहीं आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ाई लड़ने का प्रण लिया गया ।
सभा चेयरमैन राघव पठानिया ने बताया सभा लम्बे समय से आरक्षण आर्थिक आधार पर करने की मांग करती आई है ।
बताया इसके लिए सभा द्बारा कई बार ज्ञापन भी दिए गए लेकिन अभी तक भी केंद्र व प्रदेश की सरकार ने इस पर कोई निर्णय नही लिया है ।
बताया सभा चाहती है आरक्षण का लाभ हर गरीब को मिले ।
कहा गरीब किसी भी जाति या वर्ग का हो सकता है ।
बताया आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग को पूरा करवाने के लिए सभा के सभी पदाधिकारियों व सदस्यों ने अंतिम सांस तक लड़ाई लड़ने का प्रण लिया है ।
वहीं एससी ,एसटी एक्ट में संशोधन की भी अपील की गई ।
उन्होंने अन्य उपमण्डल से सबंन्धित राजपूत सभाओं से भी अपील की है कि वो भी आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग को अपने -अपने स्तर पर बुलंद करें । वहीं बैठक दौरान सुरजीत जसरोटिया को बैठक सबंन्धित अन्तिम निर्णय लेने के लिए अधिकृत किया गया ।

इस मौके पर पूर्व प्रधान जगदेव पठानिया ,नरेंद्र मनकोटिया , सचिव बलजीत राणा ,कोषाध्यक्ष जोगिंदर गुलेरिया ,अरुण जरियाल ,बलराज गुलेरिया ,धर्म सिंह सपेहिया ,करनैल सिंह ,बाबू राम ,बलबान सिंह ,जोगिंदर पठानिया ,तारा सिंह समियाल ,बलजीत चंबियाल सहित अन्य उपस्थित रहे ।

विज्ञापन आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाई आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाईआर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाई
आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू करवाने के लिए अंतिम सांस तक लड़ेंगे लड़ाई