दिनों दिन गिरता जा रहा शिक्षा का स्तर, स्कूल बंद होने से लाखों लोग हो रहे प्रभावित

दिनों दिन गिरता जा रहा शिक्षा का स्तर,स्कूल बंद होने से लाखों लोग हो रहे प्रभावित

-सरकार आदेश करे तो एसओपी का पालन करते हुए बुलाए जा सकते हैं छात्र।
अनिल शर्मा/फतेहपुर
मंगलवार को फिनजा एन एसोसिएशन ऑफ प्राइवेट स्कूल की एक वरचुअल मीटिंग हुई जिसमें सभा के कई सदस्यों ने भाग लिया। सभा अध्यक्ष नरेंद्र मनकोटिया ने बताया कि सरकार द्वारा आए दिन दिए जा रहे निर्देश स्कूलों के लिए समस्याएं खड़ी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिस तरह कोचिंग संस्थान खुले हैं दूसरी ओर चुनावी रैलियां भी हो रही हैं तो क्यों ना स्कूलों को भी खोला जाए| उन्होंने बताया कि सरकार अगर आदेश करे तो स्कूलों को ऑड ईवन रोल नंबर के सिस्टम से भी खोला जा सकता है।

वहीं फिनजा सचिव सुशबीन पठानिया ने बताया कि अगर स्कूल बंद होते है तो लाखों की संख्या में लोग प्रभावित होंगे। उन्होंने बताया कि लाखों की संख्या में लोग स्कूलों में काम कर रहे हैं जिसमें शिक्षक, गैर शिक्षक स्टाफ के साथ ड्राइवर, स्टेशनरी बाले दुकानदार के साथ संख्या लोग प्रभावित होने। दूसरी ओर सभा कोषाध्यक्ष अजय पठानिया ने बताया कि सरकार की तरफ से स्कूलों को प्रताड़ित किया जा रहा है|

उन्होंने कहा कि हमें विना बसें चलाए टैक्स देने के लिए बाध्य किया जा रहा है| एक तरफ स्कूलों की आय हर दिन प्रभावित हो रही है तो दूसरी ओर सरकार से बार-बार आग्रह करने के उपरांत भी सरकार टैक्स माफी की अधिसूचना जारी नही कर रही। वहीं राजीव कुमार ने बताया कि स्कूलों में छुट्टियों के चलते दिनों दिन शिक्षा का स्तर गिरता जा रहा है अगर अभी भी स्कूल नही खोले तो बच्चों का भविष्य चौपट हो जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे बच्चों के साथ साथ अभिभावकों की भी चिंता बढ़ती जा रही है।

फिनजा सदस्यों से सरकार से आग्रह किया कि स्कूलों को खोलने के आदेश करें इसके लिए ऑड ईवन सिस्टम या सप्ताह में एक कक्षा को दो बार बुलाया जाएं इससे एक तो स्कूलों में बच्चों की संख्या कम रहेगी तथा ऑफ लाइन स्टडी से बच्चों में शिक्षा का स्तर भी सुधरेगा। इस मीटिंग में आधुनिक पब्लिक स्कूल ,शिव शक्ति स्कूल, स्वामी विवेकानंद स्कूल,निलाबरु स्कूल,लार्ड कृष्णा स्कूल,सडवां पब्लिक स्कूल,शिवा पब्लिक स्कूल, पब्लिक स्कूल थोड़ा के साथ अन्य स्कूल संचालकों ने भाग लिया।