निक्का फतेहपुर पहुंचे, नही‌ मिल रहा खुल कर राकेश पठानियां का साथ

निक्का फतेहपुर पहुंचे, नही‌ मिल रहा खुल कर राकेश पठानियां का साथ

फतेहपुर।
हिमाचल प्रदेश मे चुनाव प्रचार पुरे योवन पर है। प्रदेश के साथ साथ फतेहपुर व नूरपुर मे भी राजनीतिक पारा चढ़ा हुआ है। नूरपुर की बात करे तो इस बार नूरपुर मे कांग्रेस प्रत्याशी अजय महाजन व भाजपा के प्रत्याशी रणवीर निक्का मे सीधे सिधे मुकबाला है। पर क्या भाजपा प्रत्याशी रणवीर निक्का की नैया पार लग पाएगी। क्योंकि वनमंत्री एवं नूरपुर के विधायक व एवं भाजपा के फतेहपुर के प्रत्याशी राकेश पाठनियां की जीत सुनिश्चित करने के लिए नूरपुर के सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ता फतेहपुर विधानसभा मे डेरा जमा कर दिन रात एक किए हुए है।

इसी कड़ी मे नूरपुर विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी रणवीर निक्का फतेहपुर मे राकेश पाठनियां के स्थानीय कार्यालय मे पहुंचे और उनसे नूरपुर के लिए आशर्वाद मांग मगर निक्का को राकेश पाठनियां से एक फोटो के सिवाए कुछ ज्याद उम्मीद नही दिख रही है।

गौर रहे कि वनमंत्री राकेश पाठनियां व रणवीर निक्का मे 36 का आंकडा लम्बे समय से चला हुआ है। और इस 36 के आंकडे़ की ज्वाला इतनी जल्दी ठंडी नही होने वाली है। बीते दिन पर नजर दौडा़एं तो नूरपुर विधानसभा मे बहुत सी भाजपा समर्थित पंचायतो के साथ साथ चूने हुए प्रतिनिधि अपने समर्थको सहित हाल ही‌ मे भाजपा छोड़ कांग्रेस ज्वाइन कर गयें है जो की अजय महाजन के लिए संजीवनी तो राकेश पठानियां के लिए प्रश्न छोड़ते है।

वही नूरपुर के भाजपाई जो फतेहपुर प्रत्याशी को जीत दिलाने के लिए फतेहपुर मे डेरा जमाएं बैठे है । उनका फतेहपुर मे बैठना राकेश पठानियां के लिए संजीवनी तो रणवीर सिंह निक्का के लिए मुश्किल बने हुए है।

निक्का फतेहपुर पहुंचे, नही‌ मिल रहा खुल कर राकेश पठानियां का साथ
निक्का फतेहपुर पहुंचे, नही‌ मिल रहा खुल कर राकेश पठानियां का साथ