सरकार ने वाहवाही लूटने के लिए बिना शौचालय,पानी तथा लाइट वाली नई बिल्डिंग में कॉलेज किया था शिफ्ट

सरकार ने वाहवाही लूटने के लिए बिना शौचालय,पानी तथा लाइट वाली नई बिल्डिंग में कॉलेज किया था शिफ्ट

अनिल शर्मा |
राजकीय महाविद्यालय लंज में SFI द्वारा धरना प्रदर्शन करके आक्रोश रैली निकाली, जिसमें सरकार के खिलाफ तथा प्रशासन के खिलाफ हल्ला बोला गया। पिछले दिनों सरकार ने अपनी पीठ थपथपाने के लिए लंज कॉलेज को नई बिल्डिंग में शिफ्ट कर दिया और उद्वघाटन कर दिया। लंज कॉलेज जो स्कूल में चल रहा था उसे शिफ्ट कर दिया तथा खूब वाहवाही लूटी।

लेकिन पिछले दिनों फिर से कॉलेज दोबारा पुरानी बिल्डिंग में शिफ्ट कर दिया था इसी के चलते आज SFI ने धरना प्रदर्शन किया। जिसमें मुख्य तौर पर अध्यापको के रिक्त पदों को भरने की मांग, PTA फीस वृद्धि तथा कॉलेज को नई बिल्डिंग में शिफ्ट करने की मांग को लेकर जोरदार प्रदर्शन हुए।

SFI लंज संयोजक अभिषेक ने कहा कि बिना तैयारी के कॉलेज शिफ्ट कर दिया। यहां न तो शौचालय की व्यवस्था थी और न ही पानी की व्यवस्था थी। नई बिल्डिंग में बिजली की भी व्यवस्था नही है। एसएफआई जिला सचिव रजनी का कहना है कि पिछले लंबे समय से छात्रों को नए महाविद्यालय भवन निर्माण का कार्य चल रहा था किन्तु जब महाविद्यालय भवन को शिफ्ट किया गया तो ना ही शोचालय की सही व्यवस्था की गई और न ही पीने के पानी की और साथ ही उन्होंने कहा इस साल विज्ञान विषय की पाठ्यक्रम महाविद्यालय में शुरू की गई है किन्तु अभी तक कोई भी प्रयोगशाला भी तेयार नहीं हुई है जबकि ये सब मूल रूप से महाविद्यालय में छात्रों के लिए बहुत जरूरी है।

सरकार ने केवल अपनी वाहवाही लूटने के लिए छात्रों के साथ खिलवाड़ किया है। यदि छात्रों को आ रही समस्याओं को जल्द से जल्द दूर नहीं किया गया तो एसएफआई आम छात्रों को लाभांवित करतें हुए एक बड़े आंदोलन के तहत जाएगी जिसकी पूरी जिम्मेवार सरकार होगी रजनी ने कहा कि लंज में आज आधे प्रोफेसरों के पद खाली चले हैं और PTA के नाम पर लूट की जा रही है इसी के खिलाफ आज धरना हुआ है। SFI ने चेतावनी दी है कि यदि फिर भी ये मांगे नही मानी तो SFI भूख हड़ताल पर भी बैठेगी।

सरकार ने वाहवाही लूटने के लिए बिना शौचालय,पानी तथा लाइट वाली नई बिल्डिंग में कॉलेज किया था शिफ्ट
सरकार ने वाहवाही लूटने के लिए बिना शौचालय,पानी तथा लाइट वाली नई बिल्डिंग में कॉलेज किया था शिफ्ट