महिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍ट

महिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍ट

मंडी
मंडी जिले में एक महिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामले सामने आया है। घर की कलह के बाद महिला के कारनामे खुलकर सामने आए है। सरकाघाट उपमंडल के बस्थला गांव में महिला डाकिया उषा देवी के घर से हजारों पत्र, आधार कार्ड, इंटरव्यू लेटर, एटीएम कार्ड सहित अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। आरोपित को डाक विभाग ने निलंबित कर जांच बैठा दी है।

महिला के जेठ संजय कुमार और ससुर मेहर चंद ने डाक न बांटने की शिकायत पुलिस से की। इसके बाद सोमवार को पुलिस ने महिला के घर की तलाशी ली तो हर कोई हैरान रह गया। तलाशी के दौरान तीन बारियों में 1029 आधार कार्ड, 2500 से अधिक स्पीडपोस्ट, इंटरव्यू लेटर (काल लेटर), एलआइसी रसीद बुकें, चेक बुक, कालेज और स्कूली छात्रों के प्रमाण पत्र बरामद किए गए।

इसे भी पढ़ें:  प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राष्ट्रीय बाल पुरस्कार -2022 से नवाजी गयी हिमाचल की बेटी श्रीया लोहिया

बताया जाता है कि सरकाघाट डाकघर के तहत आते तताहर, चम्याणू, घाड़, नवाही, बथला व सुकैण गांवों में डाक बांटने का जिम्मा था, लेकिन करीब चार साल से क्षेत्र में डाक ही नहीं बांटी थी। घर में कलह के बीच ऊषा देवी के पति बेली राम ने 29 सितंबर को आत्महत्या कर ली थी। महिला पर ही पति को आत्महत्या के लिए उकसाने का अरोप है।

पुलिस के साथ स्वजन ने दस्तावेज से भरी तीनों बोरियां उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी के हवाले कर दी हैं। बोरियों में भरे अधिकतर दस्तावेज खराब भी हो गए हैं। स्पीड पोस्ट में कई लोगों के जरूरी दस्तावेज सहित कई नियुक्ति पत्र होने का भी अंदेशा है, ऐसे में कई लोग महिला की लापरवाही का खामियाजा भुगत रहे हैैं। कई बच्चों के प्रमाणपत्र सहित अन्य जरूरी दस्तावेज भी इस लापरवाही की भेंंट चढ़ गए।

इसे भी पढ़ें:  प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राष्ट्रीय बाल पुरस्कार -2022 से नवाजी गयी हिमाचल की बेटी श्रीया लोहिया

सरकाघाट डाकघर के वरिष्ठ निरीक्षक आशीष कुमार ने बताया कि आरोपित महिला को निलंबित कर जांच शुरू कर दी है। जांच पूरी होते ही उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा। जो दस्तावेज उसके पास से बरामद किए गए हैं उन्हें उनके मालिकों को सौंप दिया जाएगा।

सरकाघाट के बस्थला गांव के बेली राम ने 29 सितंबर को आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में बेली राम ने आत्महत्या के लिए पत्नी उषा देवी, सास व ससुर व एक अन्य व्यक्ति पर प्रताडि़त करने का आरोप लगाया था। उक्त व्यक्ति महिला का कथित प्रेमी बताया जाता है। पुलिस ने चारों को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज करके गिरफ्तार कर लियाथा। वर्तमान में सभी आरोपित न्यायिक हिरासत में है|

इसे भी पढ़ें:  प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राष्ट्रीय बाल पुरस्कार -2022 से नवाजी गयी हिमाचल की बेटी श्रीया लोहिया
महिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍टमहिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍टमहिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍टमहिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍टमहिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍टमहिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍ट
महिला डाकिया की लापरवाही का बड़ा मामला, घर से मिले हजारों पत्र, आधार कार्ड व स्‍पीड पोस्‍ट