विधवा को बिना पैसे दिए खाना मंगवाता था ASI, वीडियो वायरल होने पर सस्पेंड

सस्पेंड
कमिश्नरेट पुलिस की चौकी नंगल शामा के मुफ्तखोर इंचार्ज ASI मोहिंदर सिंह के रेस्टोरेंट से मुफ्त मछली मंगवाने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस कमिश्नर ने उसे सस्पेंड कर दिया है। पुलिस चौकी इंचार्ज आए दिन रेस्टोरेंट से मुफ्त में मछली मंगवाता था। जिससे परेशान होकर रेस्टोरेंट की मालकिन ने स्टिंग ऑपरेशन कर दिया और फिर वीडियो वायरल कर दिया। सोशल मीडिया पर किरकिरी होने के बाद तुरंत इसकी जांच की गई और कुछ ही घंटे में ASI के इस काम को सर्विस रूल के उलट बताते हुए कार्रवाई कर दी गई। अब उसके खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दे दिए गए हैं।
यह था स्टिंग ऑपरेशन में
रामा मंडी के पापा चिकन रेस्टोरेंट में पुलिस चौकी नंगल शामा के इंचार्ज मोहिंदर सिंह का रसोईया आता है और मछली देने की बात कहता है। रेस्टोरेंट की मालकिन महिला उसे कहती है कि वह विधवा महिला है और इसी रेस्टोरेंट से अपना गुजारा करती है। वह रोज-रोज मुफ्त में मछली नहीं दे सकती। मछली लेने पहुंचे कर्मचारी को महिला कहती है कि वह कोई गलत काम नहीं करती, सिर्फ यहां पर लोगों को रोटी ही खिलाती है। फिर वह किस बात की वगार दे। मछली लेने आया कर्मचारी बार-बार उसे चौकी इंचार्ज से फोन पर बात करने को कहता है।
महिला ने बयां की आपबीती…
रेस्टोरेंट मालकिन ने पुलिस की धक्केशाही को बयान करते हुए बताया कि चौकी इंचार्ज मोहिंदर सिंह का मुफ्त में मछली लेने के लिए फोन आया था। पहले भी वह दो-तीन बार ऐसे ही मुफ्त में मछली मंगवा चुका था। कभी उनसे चिकन मांगा जाता है तो कभी कोई और चीज। इसके बदले कोई पैसा नहीं दिया जाता। मैं कहती थी कि चाहे थोड़े पैसे दे दो, कुछ लिहाज कर लेंगे। मैं विधवा महिला हूं और मेरा एक बेटा है। हम लोग सुबह से शाम तक काम करते हैं और इतनी मेहनत करने के बाद भी पूरी रोटी का इंतजाम नहीं हो पाता। रात 11 बजे तक हम झूठे बर्तन साफ करते हैं, ताकि हमें रोटी मिल जाए। पहले ही हमें कुछ बर्ड फ्लू ने मार दिया और कुछ महंगाई ने। इसके अलावा दुकान का किराया और कर्मचारियों का वेतन भी देना होता है ऊपर से पुलिस कर्मचारी मुफ्त में सामान मंगवाते हैं। महिला ने कहा कि उसे डर है कि चौकी इंचार्ज की पोल खोलने के बाद पुलिस उसे यहां काम करने देगी या नहीं लेकिन वह अब इस सब से परेशान हो चुकी है।
वीडियो की जांच में कसूरवार मिला ASI : DCP
DCP इन्वेस्टिगेशन गुरमीत सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें एक आदमी चौकी इंचार्ज मोहिंदर सिंह के कहने पर उनसे मछली मांग रहा था। इस बारे में तुरंत एसीपी सेंट्रल से जांच करवाई गई और उन्होंने शुरुआती जांच में एसआई मोहिंदर सिंह को कसूरवार ठहराया। जिसके बाद उसके खिलाफ कार्रवाई कर दी गई है।