पहलवानों के मुद्दों पर बात के लिए तैयार हुई सरकार, खेलमंत्री अनुराग ने पहलवानों को दिया बातचीत का न्योता

पहलवानों के मुद्दों पर बात के लिए तैयार हुई सरकार, खेलमंत्री अनुराग ने पहलवानों को दिया बातचीत का न्योता

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क|
केंद्र सरकार भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) चीफ बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी की मांग कर रहे प्रदर्शनकारी पहलवानों के साथ बातचीत के लिए तैयार है। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने एक बार फिर प्रदर्शन कर रहे भारतीय पहलवानों को बातचीत के लिए बुलाया है। अनुराग ठाकुर ने ट्विटर के जरिए प्रदर्शनकारियों को बातचीत के लिए बुलाया और कहा कि “केंद्र एक बार फिर पहलवानों से जुड़े उनके मुद्दों पर चर्चा करने को तैयार है। मैंने एक बार फिर पहलवानों को इसके लिए आमंत्रित किया है।”


अनुराग ठाकुर की ओर से न्योता मिलने से पहले पहलवानों और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बीच शनिवार को दिल्ली में एक बैठक हुई थी। बैठक में पहलवानों ने बृजभूषण सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। बैठक के बाद पहलवानों ने कहा कि उन्हें कोई खास प्रतिक्रिया नहीं मिली है और वे आगे की रणनीति बनाएंगे।

उल्लेखनीय है कि बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन शोषण के आरोपों के तहत कार्रवाई की मांग करते हुए पहलवान इस साल जनवरी से आंदोलन पर हैं। 18 जनवरी को बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट के अलावा 25 से अधिक रेसलर्स जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन पर जुटे थे। 19 जनवरी को पहलवानों की केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ बातचीत हुई। इस दौरान अनुराग ठाकुर की ओर से पहलवानों को मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया गया था।

मामले में कोई ठोस कार्रवाई न होता देख पहलवान एक बार फिर 23 अप्रैल को जंतर-मंतर पर बैठे। पहलवानों के दूसरे चरण के विरोध प्रदर्शन के शुरू होने के एक दिन बाद यानी 24 अप्रैल खेल मंत्रालय ने कहा कि भारतीय ओलंपिक संघ डेढ़ महीने के अंदर कुश्ती महासंघ की कार्यकारी समिति के चुनाव कराने के लिए अस्थायी समिति का गठन करेगा।

बता दें कि रेसलर्स योन उत्पीडन के आरोपों में घिरे बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। मामले में दिल्ली पुलिस ने बृजभूषण के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की है। इस बीच मंगलवार (6 जून) को दिल्ली पुलिस ने बृजभूषण के सहयोगियों और यूपी के गोंडा में उनके आवास पर करीबियों, कर्मचारियों के भी बयान दर्ज किए।