हनुमान जयंती पर केंद्रीय गृह मंत्रालय की एडवाइजरी

[ad_1]

New Delhi: रामनवमी पर देश के कई राज्यों में हुई हिंसा के बाद केंद्र सरकार ने एडवाइजरी जारी की है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने हनुमान जयंती से एक दिन पहले एडवाइजरी करते हुए कहा कि हनुमान जयंती की तैयारियों को लेकर सभी राज्य सरकारों को सतर्क रहने को कहा है।

असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखे

मंत्रालय ने कहा कि सभी राज्यों में शांति बनी रहे, इसके लिए कानून व्यवस्था बनाए रखे। समाज में सामाजिक सद्भाव बिगाड़ने वाले तत्वों पर कड़ी निगरानी रखने को कहा है।

उधर कलकत्ता हाईकोर्ट ने भी मंगलवार को बंगाल सरकार को सख्त निर्देश दिए। हाईकोर्ट ने कहा कि बंगाल सरकार राज्य में सुरक्षा व्यवस्था कायम रखे और केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती करे। हाईकोर्ट ने साफ कहा कि जिन इलाकों में हिंसा के बाद धारा 144 लागू की गई, वहां शोभा यात्रा न निकाली जाए।

कलकत्ता हाईकोर्ट ने की सख्त टिप्पणियां

कोर्ट ने राम नवमी पर हुई हिंसा का हवाला देते हुए सरकार से सवाल किया। कोर्ट ने कहा आप कह रहे हैं कि कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है। हमारे पास कुछ जजों के खत आए हैं। उन्होंने कहा कि उनके घरों के पास दंगा हो रहा है। तब क्या होगा? जब ऐसा ही माहौल कोर्ट परिसर के भीतर भी हो जाए। कुछ तो करना होगा। आप शोभायात्रा के रास्तों पर बैरिकेड्स लगाइए। पुलिस शांति मार्च निकाल सकती है ताकि लोगों को यह लगे कि वह सुरक्षित हैं।

दिल्ली पुलिस ने निकाला फ्लैग मार्च

इधर हनुमान जयंती को लेकर दिल्ली पुलिस भी सतर्क हो गई है। दिल्ली पुलिस के जवानों ने हनुमान जयंती से पहले बुधवार को जहांगीरपुरी इलाके में फ्लैग मार्च निकाला। जहांगीरपुरी में दिल्ली पुलिस के अलावा पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान भी मौजूद हैं। बता दें कि पिछले साल जहांगीरपुरी क्षेत्र के जी ब्लाॅक में हनुमान जयंती की शोभायात्रा पर हुए पथराव के बाद दंगा भड़क गया था।



[ad_2]

Source link