कांग्रेस मुख्यालय से पैदल ही ईडी दफ्तर पहुंचे राहुल गांधी

पार्टी कार्यकर्ताओं संग विरोध मार्च के बाद ED दफ्तर पहुंचे राहुल गांधी, बहन प्रियंका वाड्रा भी साथ में

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क|
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर पहुंच गए हैं। धन शोधन के मामले में राहुल गांधी को आज प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होना था। इससे पहले राहुल गांधी बहन प्रियंका के सामने दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे थे। यहां पर पार्टी के कई नेता भी पहुंचे थे. जिसके बाद यहां से इन्होंने मार्च निकाला।

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि आज देश में जो हो रहा है उसका हम विरोध कर रहे हैं। पीएम देश को संदेश दें कि हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

वहीं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र सरकार, सरकारी संस्थाओं के माध्यम से कांग्रेस के नेताओं को डराने की कोशिश कर रही है। हम डरने वाले नहीं हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर केंद्र की सरकार द्वारा की जा रही नफरत और डर की राजनीति को जनता तक पहुंचाएंगे। कांग्रेस, केंद्र सरकार द्वारा बढ़ाई गई महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को आम जनता तक पहुंचाएगी।

इससे पहले कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी द्वारा पूछताछ से पहले राहुल गांधी के नेतृत्व में ‘सत्या का संग्राम’ जारी रहेगा।


पार्टी मुख्यालय में सुरजेवाला ने कहा, ”हम राहुल गांधी के नेतृत्व में ईडी कार्यालय तक शांतिपूर्ण विरोध मार्च निकालेंगे। हम संविधान के रक्षक हैं, हम झुकेंगे या डरेंगे नहीं। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात करके यह साबित हो गया है कि मोदी सरकार कांग्रेस से हिल गई है।”

सुरजेवाला ने कहा, ”सत्य का संग्राम” राहुल गांधी के नेतृत्व में जारी रहेगा। आजादी की लड़ाई के दौरान कांग्रेस की आवाज को अंग्रेज भी नहीं दबा पाए, फिर यह सत्ताधारी सरकार कैसे?”

ईडी ने शुक्रवार को सोनिया गांधी को नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए 23 जून को पेश होने के लिए नया समन जारी किया था।

इस बीच, दिल्ली पुलिस ने आज नेशनल हेराल्ड मामले के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा राहुल गांधी की पूछताछ के खिलाफ सोमवार (13 जून, 2022) को होने वाली कांग्रेस की रैली की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने रैली की अनुमति न देने के पीछे कानून-व्यवस्था का हवाला दिया।

कांग्रेस मुख्यालय से पैदल ही ईडी दफ्तर पहुंचे राहुल गांधी
कांग्रेस मुख्यालय से पैदल ही ईडी दफ्तर पहुंचे राहुल गांधी