कोरोना की विदेशी वैक्सीन मंज़ूर होने पर राहुल गांधी ने शायराना अंदाज़ में किया सरकार पर तंज

राहुल गांधी ने कुछ दिनों पहले सरकार से आग्रह किया था कि विदेश में निर्मित टीकों के भारत में उपयोग को अनुमति दी जाए

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क|
भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर तेजी के साथ फैल रही है| रोजाना 1.5 लाख से ज्यादा नए कोविड केस सामने आ रहे हैं| इसी बीच भारत सरकार ने कोरोना वायरस टीकों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए विदेश निर्मित टीकों को आपात इस्तेमाल मंजूरी देने की प्रक्रिया तेज कर दी है| सरकार ने हालही तीसरे टीके के तौर पर रूस निर्मित टीके ‘स्पूतनिक वी’ को मंजूरी दे दी गई. इससे देश में वैक्सीन हो रही किल्लत को दूर करने में मदद मिलेगी|

इस पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पीएम मोदी सरकार पर तंज कसा है| उन्होंने महात्मा गांधी के एक चर्चित कथन को उद्धृत करते हुए ट्वीट किया, ‘पहले वे तुम्हारी उपेक्षा करेंगे, फिर तुम पर हंसेंगे, फिर वो तुमसे लड़ेंगे, फिर तुम जीत जाओगे|’ इसके साथ ही राहुल गांधी ने विदेशी वैक्सीन को मंजूरी देने की प्रक्रिया की खबर भी ट्वीट के साथ शेयर की है| दरअसल, राहुल गांधी ने कुछ दिनों पहले सरकार से आग्रह किया था कि विदेश में निर्मित टीकों के भारत में उपयोग को अनुमति दी जाए| इसके बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने उन पर विदेशी कंपनियों के लिए लॉबिंग करने का आरोप लगाया था|

इसे भी पढ़ें:  किसान आंदोलन: बीजेपी अध्यक्ष नड्डा के घर उच्च स्तरीय बैठक,शाह,नरेंद्र तोमर और राजनाथ पहुंचे

बता दें, राहुल गांधी पहले से ही सरकार से कह रहे हैं कि 45 साल से कम उम्र के लोगों को भी कोरोना टीके लगाए जाएं| वहीं, दूसरी ओर कई राज्यों में कोविड टीके कम पड़ने की खबरें भी आ रही हैं|

विदेशी वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार विदेशी टीके के पात्र निर्माताओं को भारत में स्थानीय क्लीनिकल ​​परीक्षण की आवश्यकता नहीं होगी| मंत्रालय की इस घोषणा से कुछ शर्तों के साथ फाइजर, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन शॉट्स के टीकों के आयात का मार्ग प्रशस्त हो सकता है| मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि सरकार ने फैसला किया है कि कोविड-19 के ऐसे टीकों को भारत में आपात इस्तेमाल की मंजूरी प्रदान की जा सकती है जो विदेश में विकसित और निर्मित हैं और जिन्हें अमेरिका, यूरोप, ब्रिटेन या जापान में नियामकों द्वारा सीमित इस्तेमाल के लिए आपात मंजूरी मिल चुकी है अथवा जिन्हें विश्व स्वास्थ्य संगठन आपात इस्तेमाल सूची में सूचीबद्ध किया गया है|

इसे भी पढ़ें:  जम्मू-कश्मीर: पाकिस्‍तान की नापाक कोशिश, सुबह-सुबह भारतीय चौकियों को बनाया निशाना

बता दें, लगातार चार दिन से देश में मामले 1.5 लाख से ऊपर आ रहे हैं और आठ दिन से एक लाख से ज्यादा कोविड मामले सामने आ रहे हैं| पिछले 24 घंटे में पूरे देश में कोरोना वायरस के 1,84,372 नए केस दर्ज किए गए हैं, वहीं इस दौरान 1,027 लोगों की मौत कोविड की वजह से हुई है|
-(इनपुट भाषा से भी)-