बिहार में शाहरुख की फिल्म ‘पठान’ का विरोध


Pathaan Movie First Day: शाहरुख खान की फिल्म पठान के रिलीज के पहले दिन बिहार में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। मंगलवार की आधी रात को भागलपुर में एक सिनेमा हॉल के बाहर प्रदर्शनकारियों ने फिल्म ‘पठान’ के पोस्टर फाड़े। बजरंग दल और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के कार्यकर्ताओं ने थियेटर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ‘फिल्म चलेगा हॉल जलेगा’ के नारे भी लगाए।

भागलपुर में विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम फिल्म को प्रदर्शित होने की अनुमति नहीं देंगे। फिल्म चलेगी तो हॉल जलेगा। सनातन धर्म के खिलाफ किसी भी फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं की जा सकती। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हिंदुत्व से समझौता नहीं किया जा सकता है। पूरे भारत सहित भागलपुर में सनातन संस्कृति का विरोध करने वाले किसी भी तत्व को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें:  BBC Documentary स्क्रीनिंग को लेकर देश के यूनिवर्सिटी में बवाल, जामिया में हिरासत में लिए गए कई छात्र

उधर, सिनेमा हॉल के मैनेजर ललन सिंह ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्वों ने फिल्म का विरोध कर रहे पोस्टर को जला दिया है। उन्होंने आगे कहा कि स्थानीय थाने और एसपी को आवेदन दिया गया है और प्रशासन ने सुरक्षा देने का आश्वासन दिया है।

बेंगलुरु में भी फिल्म को लेकर विरोध प्रदर्शन

शाहरुख खान की फिल्म ‘पठान’ की रिलीज के खिलाफ बेंगलुरु में VHP (विश्व हिंदू परिषद) समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया और फिल्म के पोस्टर भी जलाए।

शाहरुख की फिल्म ‘पठान’ को लेकर विवाद क्या है?

2023 की बहुप्रतीक्षित फिल्मों में से एक शाहरुख खान की फिल्म ‘पठान’ अपने गाने ‘बेशरम रंग’ के रिलीज होने के बाद विवादों में आ गई। फिल्म में शाहरुख के अलावा दीपिका पादुकोण और जॉन अब्राहम मुख्य किरदार निभा रहे हैं। दीपिका पादुकोण को ‘बेशर्म रंग’ गाने में भगवा बिकिनी में दिखाने पर शाहरुख और उनकी फिल्म पठान को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़ें:  कोलकाता में बंद नहीं होंगे हुक्का बार, हाईकोर्ट ने रद्द किया यह आदेश

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी गाने में अभिनेता दीपिका पादुकोण की वेशभूषा पर आपत्ति जताई थी, जिसमें सुधार की मांग की गई थी। सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (CBFC) ने बाद में पठान के निर्माताओं को बोर्ड के दिशा-निर्देशों के अनुसार फिल्म में गाने सहित बदलावों को लागू करने का निर्देश दिया था।

असम में भी फिल्म का हुआ था विरोध

हाल ही में, बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने असम के गुवाहाटी के नरेंगी में एक थिएटर पर धावा बोल दिया, जहां फिल्म की स्क्रीनिंग की जानी थी। दक्षिणपंथी समूह के स्वयंसेवकों ने फिल्म के पोस्टर फाड़ दिए और उन्हें जला दिया। तोड़फोड़ के दौरान “जय श्री राम” के नारे भी लगाए गए। दक्षिणपंथी समूह ने अपने हिंसक विरोध को “धर्म के सम्मान” में एक कार्रवाई कहकर उचित ठहराया।

इसे भी पढ़ें:  अगले 72 घंटे इन राज्यों के लिए भारी, होगी आफत की बारिश, जानें IMD का अलर्ट

5 जनवरी को, विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के भाग बजरंग दल के सदस्यों ने फिल्म के प्रचार के दौरान अहमदाबाद के वस्त्रापुर में अल्फा वन मॉल में हंगामा किया था। बजरंग दल के सदस्यों ने अपने विरोध के दौरान शाहरुख खान और उनके सह-कलाकारों की तस्वीरों को फाड़ दिया था। प्रदर्शनकारियों ने मॉल के अधिकारियों को धमकी भी दी कि अगर यह फिल्म रिलीज हुई तो वे और भी उग्र प्रदर्शन शुरू कर देंगे।





Source link

बिहार में शाहरुख की फिल्म 'पठान' का विरोध
बिहार में शाहरुख की फिल्म 'पठान' का विरोध