बड़ी ख़बर: कोविन से ऑनलाइन वैक्सीन बुकिंग के लिए 8 मई से मिलेगा 4 अंक का सुरक्षा कोड

अब टीका के लिए देना होगा सिक्योरिटी कोड:ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने वालों के लिए कल से नई व्यवस्था, 4 अंकों के सिक्योरिटी कोड से होगी पहचान
अब टीका के लिए देना होगा सिक्योरिटी कोड:ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने वालों के लिए कल से नई व्यवस्था, 4 अंकों के सिक्योरिटी कोड से होगी पहचान

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क|
केंद्र सरकार ने 1 मई से 18 से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण को मंजूरी दे दी है, जिसके बाद लोगों को कोविन एप पर वैक्‍सीनेशन के लिए रजिस्‍ट्रेशन करने को कहा गया है। अब कोविन एप पर टीकाकरण स्लॉट बुक करने वाले कई लोगों को ‘टीकाकरण’ के रूप में चिह्नित करने में डेटा-एंट्री त्रुटि को स्वीकार करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सॉफ्टवेयर में अब कुछ अतिरिक्त सुरक्षा सुविधा होगी।

बड़ी ख़बर: कोविन से ऑनलाइन वैक्सीन बुकिंग के लिए 8 मई से मिलेगा 4 अंक का सुरक्षा कोड

Cowin.Gov.In वेबसाइट पर टीकाकरण स्लॉट बुक करने पर लोगों को चार अंकों का सुरक्षा कोड प्राप्त होगा, जिसे टीकाकरण केंद्र में दिखाना होगा। कोड का उल्लेख डिजिटल सर्टिफिकेट पर भी किया जाएगा। अतिरिक्त सुरक्षा सुविधा शुरू की गई है, क्योंकि कई लोगों को संदेश मिला है कि वे वैक्सीन की एक खुराक प्राप्त कर चुके हैं, जबकि वे वास्तव में निर्धारित तिथि पर टीकाकरण के लिए नहीं आए थे।

मंत्रालय ने कहा, “यह सुनिश्चित करेगा कि ऐसे नागरिकों के लिए जिन्होंने ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बुक किया है, किसी नागरिक के टीकाकरण की स्थिति के बारे में डेटा प्रविष्टियां सही तरीके से दर्ज किए जाते हैं और केवल उन लोगों के लिए जो ऑनलाइन नियुक्ति बुक करते हैं और उस केंद्र पर सेवाओं का लाभ उठाते हैं, जहां उन्होंने नियुक्ति बुक की है। टीकाकरण कवरेज की सुविधा के लिए कोविन में प्रदान की गई लचीलेपन के प्रतिरूपण और गलत उपयोग के अवसरों को भी कम किया जाएगा।”

टीकाकरण के लिए अज्ञात सुरक्षा कोड, डिजिटल सर्टिफिकेट पर भी छापा जाएगा। वैक्सीन की खुराक का प्रबंध करने से पहले टीकाकार लाभार्थी से 4-अंकीय सुरक्षा कोड पूछेगा।

कोविड वैक्सीन के लिए कैसे करें पंजीकरण-
सबसे पहले ब्राउजर में जाकर cowin.gov.in वेबसाइट खोलें.
अब स्क्रीन पर ऊपर दाईं तरफ Register/Sign In yourself लिखा होगा, वहां क्लिक करें.
इसके बाद Register or SignIn for Vaccination के ठीक नीचे अपना दस अंकों का मोबाइल नंबर टाइप करें,
अब इसके बाद आपको एक ओटीपी प्राप्त होगा, जिसे एंटर कर दें.
इसके बाद रजिस्ट्रेशन का पोर्टल खुल जाएगा और मांगी गई सभी जानकारी को भर दें.
पहचान पत्र में उसी कार्ड की जानकारी भरें, जिसे आप टीकाकरण के दौरान साथ लेकर जा सकें.

ऑनलाइन बुकिंग वालों को होगी सही जानकारी
स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इससे यह सुनिश्चित होगा कि जिन नागरिकों ने ऑनलाइन बुकिंग करवाई है, उनके टीकाकरण की स्थिति को सही-सही सिस्टम में दर्ज कर लिया जाए। उनके सेंटर का नाम, समय, तिथि सहित हर जानकारी सिस्टम में दर्ज हो जाएगी। यह सुविधा केवल उन्हीं सेंटरों पर मिलेगी, जहां के लिए बुकिंग कराई गई है। इससे फर्जी लोगों को दूर रखने और कोविन सिस्टम को सरल बनाया जा सकेगा।

अगर आपने कराया है ऑनलाइन बुकिंग तो जान ले यह बात
स्वास्थ्य विभाग का निर्देश है कि लाभार्थी रजिस्ट्रेशन स्लिप, अपना पंजीकृत मोबाइल, जिस पर SMS आया है, उसे अपने साथ रखें, ताकि टीकाकरण की प्रक्रिया में कोई बाधा नहीं आने पाए। चार अंकों वाले सिक्योरिटी कोड को सुरक्षित रखें। वैक्सीन लगने के बाद लाभार्थी को एक मैसेज आएगा, जो इस बात का प्रमाण होगा कि टीकाकरण की प्रक्रिया सफलतापूर्वक पूरी हो गई है और डिजिटल प्रमाण पत्र बन गया है। अगर किसी को SMS नहीं मिलता तो उसे संबंधित टीकाकरण केंद्र से संपर्क करना होगा।

बड़ी ख़बर: कोविन से ऑनलाइन वैक्सीन बुकिंग के लिए 8 मई से मिलेगा 4 अंक का सुरक्षा कोड
बड़ी ख़बर: कोविन से ऑनलाइन वैक्सीन बुकिंग के लिए 8 मई से मिलेगा 4 अंक का सुरक्षा कोड