प्री प्राइमरी स्कूलों में नियुक्ति,व नियमितीकरण की मांग को लेकर आंगनबाड़ी वर्कर का शिमला में प्रदर्शन

anganwadi-workers-protest-in-shimla-

प्रजासत्ता |
आंगनबाड़ी वर्कर एवं हेल्पर यूनियन संबंधित सीटू की राज्य कमेटी ने अपनी मांगों को लेकर सोमवार को महिला एवं बाल विकास विभाग के हिमलैंड शिमला स्थित निदेशालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया

आंगनबाड़ी वर्करों ने प्री प्राइमरी कक्षाओं के लिए नियुक्त करने, आईसीडीएस का निजीकरण रोकने व आंगनबाड़ी वर्करज को नियमित कर्मचारी घोषित करने की मांग को लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया|

https://www.facebook.com/PrajasattaNews/videos/266163794864009

हिमाचल प्रदेश आंगनबाड़ी वर्कर एवं हेल्पर यूनियन की कार्यकारी सचिव विना शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि कहा कि छह वर्ष से कम उम्र के बच्चों की शिक्षा का कार्य पिछले 45 वर्षों से आंगनबाड़ी कर्मी ही कर रही हैं। लेकिन सरकार ने अब प्री प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने का निर्णय लिया है जिसके लिए सरकार नियमित भारती करने की बात कर रही है| जिसका आंगनबाड़ी वर्कर एवं हेल्पर यूनियन विरोध कर रही है|

उन्होंने ने सरकार को चेताया है कि अगर आंगनबाड़ी वर्करों को प्री प्राइमरी कक्षाओं के लिए नियुक्त न किया गया, आईसीडीएस का निजीकरण करने की कोशिश की गई व आंगनबाड़ी वर्करज को नियमित कर्मचारी घोषित न किया गया तो आंदोलन और तेज होगा और बजट सत्र के दौरान दल बल के साथ विधानसभा का घेराव किया जायेगा |