बिट्टा की पन्नू को चेतावनी, मुख्यमंत्री को धमकियां देना बंद करे, वन-टू-वन आकर बात करें

बिट्टा की पन्नू को चेतावनी, मुख्यमंत्री को धमकियां देना बंद करे, वन-टू-वन आकर बात करें

शिमला|
अखिल भारतीय आतंकवाद विरोधी फ्रंट (AIATF) चीफ MS बिट्टा ने शिमला में आयोजित प्रेस वार्ता में गुरपतवंत सिंह पन्नू को चेतावनी देते हुए कहा कि हिमाचल के मुख्यमंत्री को बार-बार धमकी देना बंद करे। अगर हिम्मत है तो उनसे आकर वन-टू-वन बात करें।

बिट्टा की पन्नू को चेतावनी, मुख्यमंत्री को धमकियां देना बंद करे, वन-टू-वन आकर बात करें

बिट्‌टा ने कहा कि पाकिस्तान और ISI के इशारे पर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल, पंजाब और सारा देश हमारा है इसलिए सभी को खालिस्तान के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। यह आवाज गुरुद्वारों से भी उठनी चाहिए। खालिस्तान न कभी था न ही होगा।

उन्होंने कहा कि पन्नू ने पगड़ी कभी पहनी नहीं। दाढ़ी कभी रखी नहीं। कहां का सिख बन गया। फिर बात करता है खालिस्तान की। उन्होंने कहा कि हिमाचल, पंजाब और सारा देश हमारा है। इसलिए सभी को खालिस्तान मुर्दाबाद कहना होगा। उन्होंने कहा कि हमें खालिस्तान के खिलाफ आवाज उठानी है।

इसे भी पढ़ें:  शिमला: दुकानदार को उलझा कर शातिर चोर ने गल्ले से निकाले 20 हजार

बिट्टा ने कहा कि हिमाचल देवभूमि है। यहां देशभर से पर्यटक बेखौफ होकर घूमने आते हैं। सैलानियों ने सुरक्षा को कभी अहमियत नहीं दी। अब देवभूमि का निशाने पर आ जाना और धमकियां शुरू देना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि पन्नू दूरदराज से धमकियां देता है। अगर दम है तो सामने आकर बात करे।

उन्होंने भारत सरकार को इसे गम्भीरता से लेकर पन्नु को विदेश से पकड़कर सलाखों के पीछे करने की मांग की है। गौरतलब है कि खालिस्तानी समर्थक पन्नू पिछले एक साल से निरंतर मुख्यमंत्री को धमकियां दे रहा है। कई बार प्रदेश के पत्रकारों और नेताओं को फोन करके यह धमकियां दी जा रही है। उधर, धर्मशाला में विधानसभा के गेट पर भी खालिस्तानी समर्थक द्वारा नारे लिखे जाते हैं।

इसे भी पढ़ें:  मुख्यमंत्री ने रोहड़ू में 102 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
बिट्टा की पन्नू को चेतावनी, मुख्यमंत्री को धमकियां देना बंद करे, वन-टू-वन आकर बात करें
बिट्टा की पन्नू को चेतावनी, मुख्यमंत्री को धमकियां देना बंद करे, वन-टू-वन आकर बात करें