शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार …

शिमला।
राजधानी शिमला में दिवाली की रात एक दुःखद घटना सामने आई है जहां आदमखोर तेंदुए 5 साल के छोटे बच्चे को घर के बाहर से उठा ले गया । मिली जानकारी मुताबिक मामला दीवाली की रात शिमला के बीचोंबीच डाउन डेल कॉलोनी का है, जहाँ पटाखों के शोर के बीच तेंदुआ बच्चे को उठा ले गया ।

जैसे ही लोगों को इसकी भनक लगी तो सूचना पुलिस और वन विभाग को दी । जिसके बाद रात करीब 11:30 बजे सर्च अभियान चलाया गया लेकिन सुबह तक कोई सुराग नही लगा । सुबह भी वन विभाग और पुलिस ने लालपानी बायपास से होते हुए डाउन डेल कॉलोनी के साथ से लगते घने जंगल मे सर्च अभियान शुरू कर दिया है ।

इसे भी पढ़ें:  शिमला जिला के रोहड़़ू में भीषण अग्निकांड, मकान जलकर हुआ राख

जानकारी के अनुसार, हिमाचल के सोलन जिले के अर्की के चंडी कश्लोग का यह परिवार बीते 25 साल से शिमला के ओल्ड बस स्टेंड के नीच डाउनटेल में रहता है। यहां पर देर रात बच्चा जब आंगन में फुलझड़ी जला रहा था तो तेंदुए ने हमला कर दिया। बच्चे का परिवार पुजारी है बच्चे की मां ने बताया कि वह किचन में थी। इस दौरान बच्चा अंदर से फुलझड़ी जलाकर बाहर आया और बाद में उसका कुछ पता नहीं चला। काफी तलाश की पर कुछ पता नहीं चला है।

इस घटना के बाद बच्चे को माता का रो-रो कर बुरा हाल है। स्थानीय ग्रामीण उन्हे ढांढस बंधाने को कोशिश कर रहे है। लेकिन अपने बच्चे के खो जाने के बाद उसकी माता बिलख बिलख कर रो रही है।

इसे भी पढ़ें:  नशे में धुत पर्यटक का हंगामा, शिमला पुलिस के ASI को जड़ा थप्पड़

शिमला के डीएफओ ने बताया कि मौके पर वन विभाग की टीम बच्चे की तलाश कर रही है। खून से सनी हुई एक पेंट मिली है। सीसीटीवी और पिंजरा लगाया गया है। बच्चे की जल्द ही तलाश कर ली जाएगी।

शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...
शिमला में आदमखोर तेंदुए ने 5 साल के छोटे बच्चे को बनाया अपना शिकार ...