होर्डिंग फाड़ने के मामले में कांग्रेस हाईकमान ने तलब की रिपोर्ट, केस दर्ज कराने की भी तैयारी

होर्डिंग फाड़ने के मामले में कांग्रेस हाईकमान ने तलब की रिपोर्ट, केस दर्ज कराने की भी तैयारी

प्रजासत्ता|
शिमला में कांग्रेस हाईकमान ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय राजीव भवन के बाहर स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर लगे होर्डिंग फाड़ने के मामले पर कड़ा संज्ञान लिया है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने प्रदेश कांग्रेस से अति शीघ्र जांच रिपोर्ट तलब कर ली है।

होर्डिंग फाड़ने के मामले में कांग्रेस हाईकमान ने तलब की रिपोर्ट, केस दर्ज कराने की भी तैयारी

वेणुगोपाल ने इस संबंध में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर से भी विस्तार से विचार विमर्श किया है। सूत्रों के मुताबिक होर्डिंग फाड़ने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कराने की तैयारी भी की जा रही है। बता दें कि यह होर्डिंग पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की फोटो प्रकाशित न होने को लेकर फाड़ा गया है। हालांकि, अभी यह साफ नहीं है कि होर्डिंग फाड़ा किसने है और किसके ईशारे पर यह सब किया गया है। वहीं शिमला में होर्डिंग फाड़ने पर पार्टी दो कार्यकर्ताओं को निलंबित कर चुकी है।

इसे भी पढ़ें:  कुमारसैन में युवक से पुलिस ने 8 किलो 32 ग्राम चरस बरामद, मामला दर्ज

बताया जा रहा है कि इन पोस्टरों में कांग्रेस के अन्य नेताओं की फोटो भी फाड़ी गई हैं। हाईकमान के पास वही फोटो भेजे गई है, जिसमें राजीव गांधी की फोटो फाड़ी हुई दिखाई दे रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर कहते हैं कि हाईकमान ने इस मामले पर कड़ा संज्ञान लिया है। एआईसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने इस मामले को लेकर अतिशीघ्र प्रदेश कांग्रेस से विस्तृत रिपोर्ट तलब की है।

क्या है मामला
बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 30वीं पुण्यतिथि पर प्रदेश कांग्रेस दफ्तर राजीव भवन और पुराने बस अड्डे के पास लगे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के होर्डिंग (फ्लेक्स) अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फाड़ दिए। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने होर्डिंग फाड़ने के वीडियो को खुद ही वायरल भी कर दिया। यह कार्य किसके इशारे पर किया गया, यह अभी सामने नहीं आया है। लेकिन कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने पार्टी में अनुशासनहीनता के लिए पार्टी कार्यकर्ता देवन भट्ट और दीपक खुराना को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

इसे भी पढ़ें:  कुमारसैन में युवक से पुलिस ने 8 किलो 32 ग्राम चरस बरामद, मामला दर्ज

वायरल वीडियो में जिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने होर्डिंग फाड़े उनका कहना था कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी, पूर्व मंत्री जीएस बाली और कांग्रेस नेताओं की इस होर्डिंग में पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह की फोटो नहीं है| यज उनका अपमान है जिसे हम बर्दास्त नही कर सकते| वहीँ इस मुद्दे को लेकर शिमला ग्रामीण से कांग्रेस विधायक और पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के पुत्र ने फेसबुक पर पोस्ट डाली है| पोस्ट में उन्होंने लिखा है, ‘तस्वीर कागज के पन्ने से ज्यादा दिल में बेहतर लगती है’|

होर्डिंग फाड़ने के मामले में कांग्रेस हाईकमान ने तलब की रिपोर्ट, केस दर्ज कराने की भी तैयारी
होर्डिंग फाड़ने के मामले में कांग्रेस हाईकमान ने तलब की रिपोर्ट, केस दर्ज कराने की भी तैयारी