दूध का दूध और दूध का पानी होगा अलग आओ ऊर्जा मंत्री जी कभी सामने बैठो

पूर्व विधायक किरनेश जंग ने किया जुबानी जंग का ऐलान
पूर्व विधायक किरनेश जंग ने किया जुबानी जंग का ऐलान

प्रजासत्ता|पांवटा साहिब
पूर्व विधायक और ऊर्जा मंत्री में ज़ुबानी जंग रुकने का नाम नहीं ले रही है पिछले दिनों ऊर्जा मंत्री ने पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग को आमने-सामने बैठकर खुली चुनौती दी थी वही आज पूर्व विधायक किरनेश जंग ने चौधरी सुखराम पर जुबानी हमला के पलटवार करते हुए कहा कि वह कई बार चौधरी सुखराम को। सामने आने के लिए ललकार चुके हैं परंतु चौधरी सुखराम कभी भी सामने नहीं आए

वह कांग्रेस के द्वारा किए गए कार्यों का श्रेय ले रहे हैं तथा लोगों को विकास के नाम पर गुमराह कर रहे हैं

गौरतलब है कि पिछले दिनों ऊर्जा मंत्री ने पांवटा साहिब प्रवास के दौरान प्रेस वार्ता में पूर्व विधायक को आमने-सामने बैठकर उनके 5 साल के कार्यकाल में तथा सुखराम चौधरी तथा जयराम सरकार के ढाई साल के कार्यकाल में जो विकास के कार्य हुए हैं उनको आमने-सामने करने की बात की थी जिससे कि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके वही चौधरी सुखराम ने कहा था कि पूर्व विधायक किरनेश जंग के कार्यकाल में पांवटा साहिब का विकास पिछड़ा है तथा चौधरी किरनेश जंग के द्वारा कोई भी विकास का कार्य नहीं किया गया है ।

वही चौधरी किरनेश जंग ने ऊर्जा मंत्री चौधरी सुखराम पर जुबानी तीर छोड़ते हुए कहा कि चौधरी सुखराम का चैलेंज वह स्वीकार करते हैं तथा जगह भी उनकी होगी और समय भी उनका होगा परंतु धरातल पर ऊर्जा मंत्री कुछ विकास के कार्य तो दिखाएं

जो भी कार्य का श्रय वह ले रहे हैं वह सब कांग्रेस सरकार के द्वारा किए गए हैं ढाई सौ करोड़ की यमुना तटीकरण की डीपीआर भी हमारे द्वारा भेजी गई थी जिसका पैसा अब केंद्र सरकार के द्वारा सैंक्शन हुआ है तथा उत्तराखंड व हिमाचल की सीमा पर बनने वाला 50 करोड़ का पुल की डीपीआर भी उन्हीं के द्वारा बनाई गई थी जिसका 42 करोड़ करीब उत्तराखंड सरकार के द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है अगर चौधरी सुखराम को इस बारे में जानकारी थी तो वह इस निर्माण कार्य को हिमाचल के ठेकेदारों के हिस्से से भी करवा सकते थे परंतु सिर्फ हवा में बातें कर रहे हैं

किरनेश जंग ने बताया कि कांग्रेस सरकार के द्वारा तहसील बिल्डिंग,थाना बिल्डिंग तथा सबसे बड़ी पांवटा साहिब की जनता के लिए यमुना पथ का निर्माण किया गया है पहले पोटा की जनता जब सड़क किनारे सर पर जाती थी तो सड़क दुर्घटना में कई लोग मारे गए जिसके बाद उनके द्वारा ही यमुना पथ का निर्माण किया गया जिसका आज पांवटा साहिब की जनता लाभ उठा रही है

वही चौधरी सुखराम को आड़े हाथों लेते हुए पूर्व विधायक किरनेश जंग ने कहा कि चौधरी सुखराम को पता था कि वह करोना पॉजिटिव है उसके बावजूद वह कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेने के लिए शिमला गए तथा उसके बाद उन्होंने लोगों से अभिवादन स्वीकार करने के लिए जनता के बीच आए जिससे कि पांवटा साहिब में करोना महामारी फैल गई तथा 10 से 12 लोगों की अभी तक पांवटा साहिब के क्षेत्र में जान जा चुकी है

ऊर्जा मंत्री के द्वारा पांवटा साहिब अस्पताल में पड़े दो वेंटिलेटर को भी चालू नहीं करवाया जा रहा है जो‌ काफी समय से सील पड़े हैं लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण बाहरी राज्यों के अस्पताल में जाना पड़ रहा है ऊर्जा मंत्री के द्वारा जिला में कम से कम 10 से 20 वैंटीलेटर का संचालन करवाया जाना चाहिए था परंतु ऊर्जा मंत्री सिर्फ हवा में बातें करते हैं धरातल पर वह कुछ नहीं करते हमें उनका चैलेंज स्वीकार है ।