पांवटा में चाइल्ड लाइन रुकवाई नाबालिग की शादी, 15 साल 9 महीने थी लड़की की उम्र

child marrage

सिरमौर|
जिला सिरमौर के पांवटा साहिब से एक बाल विवाह करवाने का मामला सामने आया है। लेकिन चाइल्ड लाइन के टीम ने मौके पर जा कर इस विवाह को होने से रुकवाया ही नहीं बल्कि लोगों को जागरूक भी किया।

पांवटा में चाइल्ड लाइन रुकवाई नाबालिग की शादी, 15 साल 9 महीने थी लड़की की उम्र

दरअसल, पांवटा साहिब उपमंडल के देवीनगर में करीब 15 साल 9 महीने की बालिका की शादी का मंडप सज चुका था। टैंट लगाकर धाम की तैयारी भी थी। इसी बीच बाल विवाह से जुड़ी गोपनीय सूचना 1098 तक पहुंची। पांवटा साहिब के देवी नगर में नाबालिग की शादी की जा रही है।

चाइल्ड लाइन के टीम सदस्य रामलाल चौहान व काउंसलर अंजना कुमारी ने फौरन ही बालिका की उम्र को लेकर गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल से संपर्क साधा। ताकि उम्र का पता लगाया जा सके। टीम को पता चला कि बालिका का जन्म 9 अगस्त 2006 को हुआ है, वो 18 साल की नहीं है।

इसे भी पढ़ें:  दु:खद! यमुना नदी में नहाने गए युवक की डूबने से मौत

टीम ने तुरंत ही इसकी सूचना पुलिस को दी। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ टीम बालिका के घर पहुंची। पुलिस भी मौके पर पहुंच चुकी थी। बालिका के माता-पिता ने स्वीकार किया कि वो शादी करवा रहे हैं। टीम ने माता-पिता की काउंसलिंग के दौरान उन्हें बाल विवाह से जुड़े कानून के बारे में जानकारी प्रदान की।

टीम के समझाने के बाद माता-पिता इस बात पर सहमत हो गए कि वो बारात को वापस भेज देंगे। माता-पिता ने बारात को वापस भेज दिया। टीम ने बालिका को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया। समिति ने भी बच्ची की काउंसलिंग की। माता-पिता ने इस बात की भी सहमति जताई कि वो बच्ची की शादी तब तक नहीं करेंगे, जब तक वो 18 साल की न हो जाए।

इसे भी पढ़ें:  दु:खद! यमुना नदी में नहाने गए युवक की डूबने से मौत
पांवटा में चाइल्ड लाइन रुकवाई नाबालिग की शादी, 15 साल 9 महीने थी लड़की की उम्र
पांवटा में चाइल्ड लाइन रुकवाई नाबालिग की शादी, 15 साल 9 महीने थी लड़की की उम्र