451Kg भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका ख़ारिज, आश्रय देने वाला ससुर गिरफ्तार

451Kg भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका ख़ारिज, आश्रय देने वाला ससुर गिरफ्तार

प्रजासत्ता|
पांवटा साहिब में 451 किलो भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है| वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्य आरोपी के ससुर राजकुमार को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया हैं 9 दिन की पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद जिसको आज कोर्ट में पेश किया गया जहा से आरोपी को जुडिशल कस्टडी में भेज दिया गया | वही मुख्य आरोपी प्रवीण की अग्रिम जमानत याचिका ADJ कोर्ट से ख़ारिज होगयी है जिसके बाद भी मुख्य आरोपी पुलिस गिरफ्त से दूर बताया जा रहा है | सूत्रों के मुताबिक आरोपी हाई कोर्ट में भागने की फिराक में है तथा पुलिस उसको व उसके साथियों को गिरफ्तार करने के कोशिश कर रही है |

451Kg भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका ख़ारिज, आश्रय देने वाला ससुर गिरफ्तार

वही पुलिस पर भी कुछ सवालिया निशान लग रहे हैं क्योंकि मुख्य आरोपी कुछ समय पहले भी भुक्की सहित गिरफ्तार हुआ था ऐसे में यह नशा तस्कर इतनी बड़ी भुक्की तस्करी को अंजाम दे रहा था और पुलिस इस सारे गिरोह के खिलाफ आखिर बड़ी कार्रवाई क्यों नहीं कर पाई ऐसे में इसकी भी जांच की मांग उठ रही है |

इसे भी पढ़ें:  गोबर के ढेर में मिली नवजात बच्ची की मां की हुई पहचान, जीजा की करतूत का हुआ खुलासा

वही अभी तक पुलिस इस बड़ी खेप की बरामदगी के मामले में नशे की खेप बेचने व खरीदने वाले तक भी नहीं पहुच सकी है वहीं सिरमौर के पुलिस अधीक्षक के मुताबिक अभी ओर बरामदगी अभी हो सकती है पुलिस अधीक्षक का यह कहना कि अभी और भुक्की की बरामदगी हो सकती है बड़े नशा तस्करों की ओर इंगित करता है कि इस दलदल में काफी और बड़े नशा तस्कर भी शामिल है अभी तक मुख्य आरोपियों का फरार होना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर रहा है |

अब देखना यह होगा कि पुलिस इन बड़े तस्करों को सलाखों के पीछे पहुंचाएगी या राजनीतिक दबाव में कहीं ना कहीं यह नशा तस्कर लाभ उठा जाएंगे इस विषय में पुलिस अधिकारियों से बात करने की बात की गई तो उन्होंने जल्द ही कार्रवाई का बात कही तथा कहा कि इस मामले में एसआईटी कार्य कर रही है जबकि इस मामले में अभी तक कई ट्रक ट्राले व कारें पुलिस जप्त कर चुकी है परंतु इस मामले में आधा दर्जन के करीब अपराधी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर बताए जा रहे हैं |

इसे भी पढ़ें:  गोबर के ढेर में मिली नवजात बच्ची की मां की हुई पहचान, जीजा की करतूत का हुआ खुलासा

इस प्रकार नशा तस्करी के मामले में अब तक कुल 451 किलो भुक्की बरामद हो चुकी है | खबरोंवाला ने एस आई टी भी गठित करने के विषय में न्यूज़ प्रकाशित की थी क्योंकि इतने बड़े मामले का पर्दाफाश करने के लिए नशा तस्कर राजनीतिक व अन्य तरह के दबाव भी बनवा सकते थे ।आपको बता दें कि पांवटा साहिब में 11 फरवरी को सुबह तड़के 200 किलो चूरा पोस्त पुलिस ने पकड़ा था वहीं देर शाम डेढ़ सौ किलो और चुरा पोस्त पुलिस ने यमुना किनारे से बरामद किया इसके बाद 101 किलो चुरा पोस्त पुलिस ने यमुना किनारे से बरामद किया लेकिन इतनी बड़ी नशे की खेप मिलने के बावजूद भी पुलिस अभी मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है |

इसे भी पढ़ें:  गोबर के ढेर में मिली नवजात बच्ची की मां की हुई पहचान, जीजा की करतूत का हुआ खुलासा
451Kg भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका ख़ारिज, आश्रय देने वाला ससुर गिरफ्तार
451Kg भुक्की बरामदगी मामले में मुख्य आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका ख़ारिज, आश्रय देने वाला ससुर गिरफ्तार