पुनर्मूल्यांकन के पश्चात टॉप टेन में आई नालागढ़ की सृष्टि राजदेव

(सृष्टि राजदेव ने जमा दो की परीक्षा में 500 में 488 अंक लेकर प्रदेश में दसवें पायदान पर पहुंची
सृष्टि राजदेव ने जमा दो की परीक्षा में 500 में 488 अंक लेकर प्रदेश में दसवें पायदान पर पहुंची

जी.एल.कश्यप|
शिवालिक वैली स्कूल कृपालपुर (नालागढ़) की सृष्टि राजदेव ने हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा में 500 में से 488 अंक हासिल कर बोर्ड मेरिट में दसवां स्थान हासिल किया है। अपनी इस उपलब्धि के जरिए विद्यालय परिवार सहित पूरे क्षेत्र का नाम रोशन करने वाली होनहार रही सृष्टि राजदेव बचपन से ही चंहुमुखी प्रतिभा की धनी रही हैं तथा पढ़ाई के साथ-साथ अन्य गतिविधियों में भी राज्य स्तर तक भाग लेती रही हैं।
मेडिकल बिषय में 10 + 2 पास कर चुकी सृष्टि वर्तमान में नीट की तैयारी कर रही है तथा भविष्य में चिकित्सक के रूप में देश की सेवा करना चाहती हैं। सृष्टि राज देव के पिता मनीष राजदेव एक बिजनेसमैन है जबकि माता रजनी बाला शिक्षिका हैं। अपनी इस कामयाबी का श्रेय सृष्टि अपने अध्यापकों तथा अभिभावकों को देती हैं जबकि अपने दादा पृथ्वी राजदेव को अपना आदर्श मानती हैं।

शिवालिक वैली पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्य कविता बंसल ने बताया कि सृष्टि राजदेव उनके विद्यालय में होनहार छात्रा रही हैं तथा प्रथम कक्षा से ही वार्षिक परिणाम में प्रथम आती रही हैं। सृष्टि पढ़ाई के साथ साथ सांस्कृतिक खेलकूद सहित विभिन्न गतिविधियों में भाग लेती रही हैं। कविता बंसल ने बताया कि इस बर्ष वार्षिक परीक्षा परिणाम में किन्ही कारणों से इस छात्रा के अंग्रेजी विषय में अपेक्षाकृत कम अंक आए थे जबकि भौतिक विज्ञान, जीव विज्ञान तथा कंप्यूटर जैसे विषयों में सृष्टि राज देव ने 100 में से 99 अंक हासिल किए थे।

इसके पश्चात छात्रा द्वारा अंग्रेजी विषय में पुनरमूल्यांकन के लिए बोर्ड में आवेदन किया गया था तथा हाल ही में बोर्ड द्वारा जारी किए गए परिणाम के मुताबिक अंग्रेजी विषय में 5 अंकों की बढ़ोतरी हुई तथा बोर्ड द्वारा जारी की गई अनंतिम मेरिट लिस्ट में वह दसवें पायदान पर पहुंच गई है।

कविता बंसल ने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि सृष्टि राजदेव भविष्य में अपने उद्देश्य को हासिल करने में शत प्रतिशत कामयाब होगी तथा अपने माता पिता, विद्यालय तथा क्षेत्र का नाम रोशन करेगी।