मज़दूरों का शोषण नहीं करेगी इंटक बर्दास्त:- बबलू पंडित

मज़दूरों का शोषण नहीं करेगी इंटक बर्दास्त:- बबलू पंडित

प्रजासत्ता|
-मज़दूरों के हितों की लड़ाई लड़ेगी इंटक
भोरंज वि स में प्रदेश इंटक की बैठक का आयोजन हि प्र भवन एवं अन्य कामगार यूनियन इंटक के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष राजीव राणा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें मुख्यअतिथि प्रदेश इंटक के अध्यक्ष बबलू पंडित ने शिरकत की।

बबलू पंडित ने अपने संबोधन में कहा कि इंटक मज़दूर हित में निरन्तर कार्य कर रही , अतः मज़दूरों का शोषण इंटक बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी, हम सभी संगठन ,चाहे वो आशा बर्कर्स, जल शक्ति विभाग ,स्वास्थ विभाग, 108 एम्बुलेंस , चोकीदार यूनियन, मनरेगा यूनियन, भवन कामगार यूनियन आदि यूनियन की समस्याओं का सामूहिक मांग पत्र सरकार के समक्ष रखेंगे, मांग पत्र जैसे ई एस आई शाखा कार्यालय कांगड़ा, शिमला, बिलासपुर खोला जाए, प्रदेश के साथ जिलों कोई एस आई के अंतर्गत लाये, प्राइवेट संस्थान compulsory notification of vacancy act की धज्जियां उड़ा रही है उसे सही करे,जल शक्ति बिभाग में कार्यरत contractual labour को ई एस आई सी के अंतर्गत लाने बारे, ईंट भट्ठों, टोल बैरियर, आदि को ई एस आई सी के अंतर्गत लाने को रखेंगें और सरकार अगर नही मानती तो इस बारे आंदोलन करके मज़दूर हित को रखेंगे।

इसे भी पढ़ें:  गणपति मेगा स्टोर ने परवाणू ESI को औक्सीजन सिलेंडर सेवा भाव से दान दिया

वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष राजीव राणा ने कहा कि प्रदेश की अंधी बहरी सरकार आउटशोर्स कर्मचारियों के लिए स्थाई नीति बनाये, राजीव राणा ने बताया प्रदेश सरकार ने मज़दूरों के हक़ हकूक को खत्म कर दिया है चाहे आशा बर्कर्स, आउट शोर्स कर्मचारियों के लिए नीति खत्म कर दी है|

वहीं लेबर लॉ को खत्म किया गया,राणा ने प्रदेश सरकार को चेताया कि मज़दूरों के लिये स्थाई नीति नहीं बनाई ,तो मजदूर इंटक सड़कों पर उतरेगी। कार्यक्रम में महासचिव संजय शर्मा, उपाध्यक्ष भगत सिंह शर्मा,उपाध्यक्ष गोकुल चंद सहगल,युवा इंटक प्रदेश अध्यक्ष राहुल तंवर, सुरेंदर शोंडा, महासचिव अंकुश सैनी, जिला अध्यक्ष रितेश आदि ने भी अपने अपने विचार कार्यकारिणी के समक्ष रखे।

इसे भी पढ़ें:  परवाणू: तैश में आकर व्यक्ति ने पत्नी और मां पर बंदूक से किया फायर , मां की मौत