शिमला-कालका फोरलेन पर सोलन के समीप फ्लाई ओवर का हिस्सा धंसा, चपेट में दो कारे…

सोलन,11 अगस्त : शिमला -कालका फोरलेन पर शमलेच के नजदीक टनल के फ्लाईओवर के प्रवेश स्थल से कुछ मीटर पहले डंगा धंसने की खबर है। हादसे के समय हाईवे पर से दो कारें भी गुजर रही थी। कार में सवार लोगों को चोटे आने की भी सूचना है।  हालांकि सिंगल लेन पर ट्रैफिक को बहाल किया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि अचानक ही डंगा धंसना शुरू हो गया। इसी फ्लाईओवर के बाद ट्रैफिक टनल में दाखिल होता है। फोरलेन बनाने वाली कंपनी की लचर कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठने लगे है।    जानकारों का कहना है कि इस जगह पर  हाईवे पहले भी धंस गया था लेकिन फोरलेन बनाने वाली कंपनी द्वारा सिर्फ लीपापोती की जाती थी। उन्होंने बताया कि वीरवार को हाईवे पूरी तरह से बैठ गया है। गनीमत है कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ है। बता दे कि फोरलेन का कार्य पूरा नहीं हुआ है लेकिन धंसने के आलावा कई जगहों पर दरारे भी नजर आने लगी है। गौरतलब है कि हाईवे पर जोखिम के संकेत बुधवार को भी मिलने शुरू हो गए थे, क्योंकि कई स्थानों पर हाईवे धंसने लगा था। 

सोलन|
शिमला-कालका फोरलेन पर शमलेच के नजदीक टनल के फ्लाईओवर का डंगा धंसने से दो कारे इसकी चपेट में आ गई। हादसे के समय हाईवे पर से दो कारें भी गुजर रही थी। कार में सवार लोगों को चोटे आने की भी सूचना है। घटना के बाद सिंगल लेन पर ट्रैफिक को बहाल किया जा रहा है। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि अचानक ही डंगा धंसना शुरू हो गया। बता दें कि इसी फ्लाईओवर के बाद ट्रैफिक टनल में दाखिल होता है। 

फोरलेन बनाने वाली कंपनी की लचर कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठने लगे है।   
जानकारों का कहना है कि इस जगह पर हाईवे पहले भी धंस गया था लेकिन फोरलेन बनाने वाली कंपनी द्वारा सिर्फ लीपापोती की जाती थी। उन्होंने बताया कि वीरवार को हाईवे पूरी तरह से बैठ गया है। गनीमत है कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ है।

बता दे कि फोरलेन का कार्य पूरा नहीं हुआ है लेकिन धंसने के आलावा कई जगहों पर दरारे भी नजर आने लगी है। गौरतलब है कि हाईवे पर जोखिम के संकेत बुधवार को भी मिलने शुरू हो गए थे, क्योंकि कई स्थानों पर हाईवे धंसने लगा था। 

शिमला-कालका फोरलेन पर सोलन के समीप फ्लाई ओवर का हिस्सा धंसा, चपेट में दो कारे…
शिमला-कालका फोरलेन पर सोलन के समीप फ्लाई ओवर का हिस्सा धंसा, चपेट में दो कारे…