सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

– पुलिस भर्ती प्रकरण व ईएसआई पीएफ में हो रही धांधली को लेकर कांग्रेस ने किया प्रदर्शन
– दून कांग्रेस ने पूर्व विधायक चौ. राम कुमार की अगुवाई में राज्यपाल को भेजा ज्ञापन
बद्दी।
दून कांग्रेस ने मंगलवार को तहसील कार्यालय बद्दी के बाहर जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से करवाने और उद्योगों में युवाओं के साथ हो रहे शोषण को लेकर कांग्रेस ने उग्र रूप दिखाया। तहसीलदार बद्दी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर कांग्रेस ने दोनों मामलों पर जांच करवाने और कार्रवाई की मांग की।

सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

मंगलवार को तहसील कार्यालय बद्दी में पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी व दून ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कुलतार मैहता की अगुवाई में भारी संख्या में युवा एकत्रित हुए। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वहीं एक हस्ताक्षरित ज्ञापन तहसीलदार बद्दी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को भेजा गया। ज्ञापन के माध्यम से दून कांग्रेस ने पुलिस भर्ती पेपर लीक प्रकरण की जांच सीबाईआई से करवाने की मांग की। पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी ने कहा कि इस प्रकरण से प्रदेश लाखों युवाओं के साथ भद्दा मजाक हुआ। 76 हजार बेरोजगार युवाओं ने पुलिस भर्ती की परीक्षा दी जो आज सरकार की लापरवाही का शिकार हुए। एक तो पहले ही युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं ऊपर से प्रदेश सरकार की नाकामी का दंश भी अब युवाओं को झेलना पड़ रहा है।

सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

सरकारी क्षेत्र में जहां युवाओं से मजाक किया जा रहा है वहीं उद्योगों में भी शोषण का सिलसिला जारी है। उद्योगों मं कार्यरत युवाओं को न तो न्यूनतम वेतन दिया जा रहा है वहीं न उन्हें ईएसआई और पीएफ की सुविधा मिल रही है। ईएसआई और पीएफ के नाम पर ठेकेदार और कंपनियां मिलकर धांधली कर रही हैं। राम कुमार चौधरी ने कहा कि प्रदेश भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। सरकार की नाक तले पुलिस भर्ती का पेपर लीक हो गया जो कि शर्मनाक है और युवाओं के साथ धोखा है। वहीं उद्योगों में भी युवाओं का शोषण कर उन्हें निचोड़ा जा रहा है। कमरतोड़ काम के बाबजूद भी न तो मेहनत के पैसे मिल रहे और न ही उन्हें ईएसआई पीएफ की सुविधा। दून कांग्रेस ने राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर जहां पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग उठाई वहीं उद्योगों में हो रहे शोषण पर भी सख्त नियम बनाने की गुहार लगाई।

सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

इस मौके पर पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी के साथ ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कुलतार मैहता, प्रधान भाग सिंह, हुस्न चंद, मलकीयत सिंह, दिनेश कुमार, राम लाल, जितेंद्र ठाकुर, हैप्पी सिंह, सुभाष कुमार, चरणजीत सिंह, लेखराम नंबरदार, राम स्वरूप, सुरेंद्र ठाकुर, अजय कुमार, प्रदीप धीमान, रमन कुमार, बलदेव, देवेंद्र, तरूण, बिट्टू, शिव कुमार, नरेंद्र ठाकुर, माधव कौशल, मलूकचंद समेत भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें:  सोलन में भी लीक हुआ था पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर, SIT ने पकड़े चार टापर
सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार

सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमारसीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमारसीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमारसीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमारसीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमारसीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार
सीबीआई से करवाई जाए पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले की जांच : चौ. राम कुमार