सोलन के रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का मेकशिफ्ट अस्पताल के लिए चयन

सोलन में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगियों के लिए मेकशिफ्ट अस्पताल का निर्माण कार्य अन्तिम चरण में

प्रजासत्ता|
जयराम ठाकुर के निर्देश पर सोलन शहर में कोविड-19 महामारी संकट के समय में आवश्यकता पड़ने पर सक्रंमित रोगियों को और बेहतर सुविधाएं प्रदान करने का कार्य अन्तिम चरण में हैं। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए सोलन स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र में आरम्भिक चरण में 200 बिस्तरों वाला मेकशिफ्ट अस्पताल तैयार किया जा रहा है। यह जानकारी आज यहां उपायुक्त सोलन केसी चमन ने दी।

सोलन के रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का मेकशिफ्ट अस्पताल के लिए चयन

केसी चमन ने कहा कि वर्तमान में मुख्यमंत्री स्वयं प्रदेश के सभी जिलों में कोविड-19 संकट से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं और प्रदेश के साथ-साथ जिला स्तर पर आवश्यक निर्देश जारी कर रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने सोलन शहर में आवश्यकता पड़ने पर उचित सुविधाएं स्थापित करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का चयन किया गया है।
उपायुक्त ने कहा कि गत वर्ष कोविड-19 संकट के आरम्भ के समय से ही राधा स्वामी सत्संग केन्द्र सोलन जहां पीड़ित मानवता की सेवा का सम्बल बनकर उभरा है वहीं इस दिशा में जिला प्रशासन को भी उचित सहायता उपलब्ध करवा रहा है। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग द्वारा जिला के सोलन एवं नालागढ़ के साथ-साथ अन्य स्थानों पर भी इस दिशा में सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:  मां शूलिनी मेला के दौरान सोलन में रहेगी धारा 144, जानिए क्या है आवश्यक आदेश

सोलन के रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का मेकशिफ्ट अस्पताल के लिए चयन विभिन्न मानकों के अनुरूप किया गया है। केसी चमन ने कहा कि यहां मेकशिफ्ट अस्पताल का निर्माण कार्य प्रगति पर है और शीघ्र ही यह सुविधा पूरी तरह तैयार कर ली जाएगी। उन्होंने कहा कि आरम्भिक चरण में यहां कोविड-19 संक्रमित रोगियों के लिए आॅक्सीजन सुविधा युक्त 200 बिस्तरों की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग केन्द्र में स्थान की समुचित उपलब्धता के दृष्टिगत यहां बिस्तरों की संख्या बढ़ाई भी जा सकती है। उन्होंने कहा कि यहां 20 बिस्तर सघन जांच इकाई (आईसीयू) के अधीन रखे जाएंगे। उन्होंने कहा कि केन्द्र में 50 बिस्तर स्थापित भी कर दिए गए हैं।

इसे भी पढ़ें:  कृतिका कुल्हारी ने सम्भाला उपायुक्त सोलन का कार्यभार

उपायुक्त ने कहा कि इस कार्य को शीघ्र पूरा करने एवं कार्य की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियन्ता की अगुवाई में एक समिति गठित की गई है। इस समिति की देखरेख में निर्माण कार्य पूरा किया जा रहा है।

केसी चमन ने कहा कि जिला सोलन में कोविड-19 पाॅजिटिव रोगियों के लिए वर्तमान में समर्पित कोविड अस्पताल ईएसआई काठा में 38, एमएमयू कुम्हारहट्टी में 135 तथा नालागढ़ स्थित मेकशिफ्ट अस्पताल में 45 बिस्तर उपलब्ध हैं। एमएमयू कुम्हारहट्टी में 135 में 120 बिस्तरों के साथ ऑक्सीजन सुविधा तथा 15 के साथ वेन्टीलेंटर सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 पाॅजिटिव रोगियों को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े इसके लिए जिला प्रशासन ने नालागढ़ उपमण्डल स्थित आकाश अस्पताल में 35, गगन अस्पताल में 50 एवं मल्होत्रा सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल में 75 बिस्तर अपने अधिकार क्षेत्र में लिए हैं। इन सभी के साथ आॅक्सीजन सुविधा उपलब्ध है।

इसे भी पढ़ें:  बालीवुड अभिनेत्री करीना कपूर के खिलाफ बजरंग दल हिमाचल ने खोला मोर्चा

उन्होंने कहा कि जिला में अर्की उपमण्डल के बखालग स्थित समर्पित कोविड केयर केन्द्र में 100, परवाणू स्थित समर्पित कोविड केयर केन्द्र में 70, नालागढ़ स्थित समर्पित कोविड केयर केन्द्र में 80 तथा नौणी स्थित समर्पित कोविड केयर केन्द्र में 85 बिस्तर उपलब्ध हैं। इन सभी केन्द्रों में आॅक्सीजन कन्सनट्रेट की सुविधा उपलब्ध है।
केसी चमन ने कहा कि सोलन जिला में कोविड-19 रोगियों की सुविधा के लिए विभिन्न स्तरों पर आवश्यकतानुसार उपकरण एवं अन्य साजो सामान उपलब्ध करवाया गया है।

सोलन के रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का मेकशिफ्ट अस्पताल के लिए चयन
सोलन के रबौण स्थित राधा स्वामी सत्संग केन्द्र का मेकशिफ्ट अस्पताल के लिए चयन