25 दिसम्बर को प्रत्येक हिन्दू घर मनाये तुलसी पूजन दिवस : पवन समैला

25 दिसम्बर को प्रत्येक हिन्दू घर मनाये तुलसी पूजन दिवस : पवन समैला

अमित ठाकुर | परवाणू
विहिप व बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने परवाणू नगर में पूरे विधि-विधान के साथ तुलसी पूजन दिवस मनाया इस मौके पर बजरंग दल प्रदेश संयोजक पवन समैला मुख्य रूप से उपस्थित रहे|
इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बजरंग दल प्रदेश संयोजक पवन समैला ने काहा कि 25 दिसम्बर को प्रत्येक हिन्दू घर में तुलसी पूजन किया जाना चाहिए हिन्दू धर्म में तुलसी को पूजनीय माना गया है हिन्दू शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पत्ते के बिना भगवान श्री हरि भोग स्वीकार नहीं करते हैं।

उन्होंने कहा कि तुलसी का धार्मिक के साथ-साथ आयुर्वेदिक, सांस्कृतिक व आध्यात्मिक महत्व भी है आयुर्वेद में तुलसी को अमृत कहा गया है क्योंकि यह एक महत्वपूर्ण औषधि का काम भी करती हैं साथ ही यह स्वास्थ्य व पर्यावरण-सुरक्षा की दृष्टि से भी अहम उपयोगी है ।

इसे भी पढ़ें:  "द हिमालयन वॉइस" गायन प्रतियोगिता सीज़न-1 के फाइनलिसट्स की आवाज़ मे "कान्हा तेरी मुरली" भजन रिलीज़

पवन समैला ने कहा कि जिस घर में तुलसी का वास होता है वहाँ आध्यात्मिक उऩ्नति के साथ सुख-शांति एवं आर्थिक समृद्धि स्वतः होती है । वातावरण में स्वच्छता एवं शुद्धता, प्रदूषण-शमन, घर परिवार में आरोग्य की जड़ें मजबूत करना आदि तुलसी के अनेक लाभ हैं । तुलसी के नियमित सेवन से सौभाग्यशालिता के साथ ही सोच में पवित्रता, मन में एकाग्रता आती है और क्रोध पर नियंत्रण होता है । आलस्य दूर होकर शरीर में दिनभर स्फूर्ति बनी रहती है ।

उन्होंने कहा कि हिन्दू शास्त्र-शास्त्रों में यह बात भली प्रकार से उल्लेख है कि अगर घर पर कोई संकट आने वाला है तो सबसे पहले उस घर से लक्ष्मी यानि तुलसी चली जाती है और वहां दरिद्रता का वास होने लगता है यह बात कम लोग जानते हैं कि तुलसी परिवार में आने वाले संकट के बारे में सुख कर पहले ही संकेत दे देती है । इस मौके पर विहिप जिला सह मंत्री बलवंत भट्टी, प्रखंड मंत्री कृष्ण पाल, नगर अध्यक्ष चमन लाल गोयल, नगर संयोजक बजरंग दल मनमोहन शर्मा सहित अन्य कार्यकर्ता व हिन्दू प्रेमी उपस्थित रहे ।

इसे भी पढ़ें:  बद्दी: पत्नी के साथ अवैध संबंध पर कर दी साथी की हत्या
25 दिसम्बर को प्रत्येक हिन्दू घर मनाये तुलसी पूजन दिवस : पवन समैला
25 दिसम्बर को प्रत्येक हिन्दू घर मनाये तुलसी पूजन दिवस : पवन समैला