ऊना: शराब ठेके के खिलाफ सड़क पर उतरी महिलाएं, 24 घंटे का दिया अल्टीमेटम

ऊना: शराब ठेके के खिलाफ सड़क पर उतरी महिलाएं, 24 घंटे का दिया अल्टीमेटम

ऊना।
ऊना जिला के गांव कोटला खुर्द में ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने शराब के ठेके के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए इसे हटाने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है।

मंगलवार को पंचायत प्रधान ममता शर्मा के नेतृत्व में दो दर्जन से अधिक महिलाओं ने शराब के ठेके का जमकर विरोध किया। ग्रामीणों ने कहा कि अगर ठेका यहां से स्थानांतरित नहीं किया गया तो बुधवार से शराब के ठेके के बाहर धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया जाएगा। जब तक ठेका यहां से नहीं हटाया जाता, तब तक धरना प्रदर्शन जारी रहेगा। अगर इसके बावजूद भी कोई कार्रवाई न हुई तो वह भूख हड़ताल करने से भी पीछे नहीं रहेंगे।

ग्राम पंचायत ममता शर्मा, उपप्रधान नरेश कुमार, वार्ड पंच रामपाल, रितु, इंदु बाला, रानी देवी, महिला मंडल की प्रधान शशि बाला, सचिव रीता देवी, मंगल सिंह व अन्य ग्रामीणों ने कहा कि उक्त शराब का ठेका बिना पंचायत की एनओसी के खोल दिया गया है। उक्त ठेका ऊना-नारी मुख्य सड़क मार्ग पर खोला गया है। इसके आसपास आबादी पड़ती है। वहीं ठेके के समीप मंदिर भी है। मंदिर में सुबह व शाम महिलाएं व अन्य लोग माथा टेकने आते है। अगर यहां ठेका खुलता है तो महिलाओं का यहां से गुजरना मुश्किल हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि शराब के ठेके के चलते यहां माहौल खराब होने से लोगों का जीना दुश्वार हो जाएगा। इसलिए शराब का ठेका उनहें किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं है। ग्रामीणों ने कहा कि शराब ठेका खोलने वालो लोगों ने उनहें अंधेरे में रखकर शराब का ठेका खोला है।

ग्राम पंचायत कोटला खुर्द की प्रधान ममता शर्मा ने कहा कि बिना एनओसी के शराब का ठेका खोला गया है। ग्रामीणों के साथ मिलकर ठेके का विरोध किया जाएगा। बुधवार को ग्रामीण यहां धरने पर बैठेंगे। वहीं अगर जरुरत पड़ी तो भूख हड़ताल भी की जाएगी।