मंडी: अब नेरचौक मेडिकल कॉलेज में रैगिंग मामला, 6 सीनियर छात्रों पर कार्रवाई

छात्रों को सजा के तौर पर छह महीने के लिए छात्रावास से निष्कासित कर दिया गया है और शैक्षणिक सत्र में भाग लेने पर भी पाबंदी लगाई गई है।

Ragging in Lal Bahadur Shastri Medical College
Ragging in Lal Bahadur Shastri Medical College

मंडी | 16 सितम्बर
मंडी जिले के नेरचौक स्थित लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज (Ragging in Lal Bahadur Shastri Medical College) में शुक्रवार को नए दाखिल हुए एमबीबीएस प्रशिक्षुओं के साथ रैगिंग का मामला सामने आया। इस मामले के सामने आने के बाद नेरचौक मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने रैगिंग के आरोपी 6 सीनियर छात्रों पर कार्रवाई करते हुए हॉस्टल से छ: माह के लिए और शैक्षणिक सत्र से तीन माह के लिए निष्कासित कर दिया गया है। इसके आलावा आरोपी विद्यार्थियों को 25-25 हजार रुपये जुर्माना लगाया गया है।

एंटी रैगिंग कमेटी के अनुसार मेडिकल कॉलेज के 2022 बैच के कुछ प्रशिक्षु नए दाखिला लिए प्रशिक्षुओं की रैगिंग (Ragging in Lal Bahadur Shastri Medical College) ले रहे थे। कॉलेज प्रबंधन को भी इसकी भनक लग गई। जिसके बाद इस मामले को लेकर जाँच हुई और रैगिंग में शामिल छ: वरिष्ठ छात्र संलिप्त पाए गए हैं।

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज नेरचौक के प्रधानाचार्य डीके वर्मा ने नेतृत्व में संस्थान की एंटी रैगिंग कमेटी की एक बैठक बुलाई गई। समिति ने विस्तृत जांच के बाद निष्कर्ष निकाला कि कुछ छात्र रैगिंग के मामले में शामिल थे और दोषी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित की। सभी आरोपी छात्रों को 6 महीने के लिए छात्रावास से निष्कासित किया जा रहा है साथ ही तीन महीने के लिए शैक्षणिक सत्र में भाग लेने से रोक दिया गया है। इसके आलावा 25 हजार का प्रति छात्र जुर्माना भी लगाया गया है।

इंडियन एयरफोर्स के बेड़े में शामिल होंगे 12 सुखोई SU-30 MKI Fighter Jets, भारतीय हथियारों और सेंसर से होंगे लैस

मंडी: नौ साल की मासूम की मौत, ननिहाल पक्ष का पिता पर हत्या का आरोप, मंडी-पठानकोट NH किया जाम

Ragging in Lal Bahadur Shastri Medical College