Cow Slaughter Case in Nahan: एसपी सिरमौर की कड़ी चेतावनी, गोकशी करने वालों को नहीं मिलेगी राहत..!

Nahan Hindu Outfits Protest: सिरमौर जिले के मुख्यालय नाहन में बड़ा बवाल हुआ है। गोकशी के फोटो वायरल होने की वजह से हिंदू सगंठनों ने प्रदर्शन किया और इस दौरान समुदाय विशेष के लोगों की दुकानों का सामान बाहर फेंक दिया। बताया जा रहा है कि मामले में शामिल आरोपित नाहन में रेडीमेट गारमेंट की दुकान चलाता है।

Cow Slaughter Case in Nahan
एसपी सिरमौर की कड़ी चेतावनी, गोकशी करने वालों को नहीं मिलेगी राहत..!

Cow Slaughter Case in Nahan: हिमाचल प्रदेश के नाहन में लोगों ने गोकशी (Cow Slaughter Case in Nahan) के आरोप में एक दुकान में तोड़फोड़ की। दरअसल उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के एक व्यापारी पर ईद-उल-अजहा के दौरान गोहत्या से जुडी पोस्ट अपने सोशल मीडिया पर अपलोड करने का आरोप लगा है। इस घटना की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही  है। बताया जा रहा है कि मामले में शामिल आरोपित नाहन में रेडीमेट गारमेंट की दुकान चलाता है।

इस घटना के बाद हिंदू सगंठनों ने रोष जताया। 18 जून को भी प्रदर्शन किया गया था। इसके बाद बुधवार को यहां पर विरोध प्रदर्शन के दौरान हालात बेकाबू हो गए और लोगों ने समुदाय विशेष के दुकानदारों की दुकानों पर धावा बोल दिया और सारा सामान बाहर फेंक दिया। घटना के दौरान काफी ज्यादा लोगों की संख्या के चलते पुलिस हालात को काबू करने में नाकाम रही. इस दौरान क्यूआरटी को भी मौके पर बुलाया गया था।

सिरमौर पुलिस ने बताया कि पंचायत बनेठी उप-प्रधान ने गोकशी (Cow Slaughter Case in Nahan) को लेकर एक वीडियो बनाया था और कहा था कि नाहन में समुदाय विशेष के प्रवासी व्यक्ति ने छोटा चौक नाहन में गोवंश की हत्या की है। हालांकि, यह फोटो उत्तर प्रदेश का है और नाहन में ऐसी घटना नहीं हुई थी। पुलिस ने जांच के बाद बताया कि प्रवासी व्यक्ति पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश का रहने वाला है तथा तथा पिछले दो-तीन दिन दिनों से अपने पैतृक गांव गया हुआ है। उक्त व्यक्ति ने अपने व्हाट्स स्टेट्स पर वीडियो अपलोड किया था।  इसके बाद ही बवाल बड़ा और अब नाहन में प्रदर्शन किया गया।

जानिए एसपी सिरमौर ने गौहत्या (Cow Slaughter Case in Nahan) के मामले पर क्या कहा..

एसपी सिरमौर, रमन कुमार मीणा ने साफ शब्दों में चेतावनी दी है कि उनके कार्यकाल के दौरान सिरमौर जिले में गोकशी (Cow Slaughter Case in Nahan) के दो मामले सामने आए हैं। एक मामला माजरा थाने में दर्ज है और दूसरा पुरुवाला में। माजरा थाने के मामले में तीन आरोपी बाहरी राज्यों के हैं, जबकि पुरुवाला के मामले में चार आरोपी शामिल हैं। सभी सातों आरोपी फिलहाल जेल में हैं।

एसपी मीणा ने दृढ़ता से कहा कि अगर किसी ने सिरमौर जिले की सीमा के अंदर ऐसी घटना को अंजाम दिया है, तो उसे किसी भी हालत में नहीं बख्शा जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि आरोपित की कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) लेकर उनकी टावर लोकेशन खंगाली जा रही है। अगर उनकी लोकेशन सिरमौर जिले में पाई जाती है, तो तुरंत एफआईआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

एसपी ने यह भी बताया कि यदि यह घटना प्रदेश के बाहर हुई है, तो वहां की पुलिस से संपर्क स्थापित कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि हिमाचल प्रदेश में गोहत्या पर सख्त कानून हैं और दोषियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा। रमन कुमार मीणा की इस कड़ी चेतावनी से स्पष्ट है कि सिरमौर जिले में गोकशी करने वालों के लिए कोई जगह नहीं है।